Home /News /uttar-pradesh /

अलीगढ़:-पीएम स्वनिधि योजना में अलीगढ़ का बेहतरीन प्रदर्शन जारी,जानिए कैसे देश में दूसरे स्थान पर पहुंचा

अलीगढ़:-पीएम स्वनिधि योजना में अलीगढ़ का बेहतरीन प्रदर्शन जारी,जानिए कैसे देश में दूसरे स्थान पर पहुंचा

अलीगढ़

अलीगढ़ का नगर निगम दफ्तर

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में ऋण वितरण के मामले में अलीगढ़ देश के दूसरे स्थान पर पहुंच गया है,जबकि उत्तर प्रदेश में प्रथम स्थान पर है.अलीगढ़ में स्व निधियोजना का लाभ 17000 स्ट्रीट वेंडर्स को दिया जा चुका है.वर्ष 2021-22 में एनआरएलएम योजना में सहायता समूह को 850 सीसीएल का ऋण वितरण कर प्रदेश में चौथे स्थान पर है भी रहा था. 

अधिक पढ़ें ...

    प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना में ऋण वितरण के मामले में अलीगढ़ देश के दूसरे स्थान पर पहुंच गया है,जबकि उत्तर प्रदेश में प्रथम स्थान पर है.अलीगढ़ में स्व निधियोजना का लाभ 17000 स्ट्रीट वेंडर्स को दिया जा चुका है.वर्ष 2021-22 में एनआरएलएम योजना में सहायता समूह को 850 सीसीएल का ऋण वितरण कर प्रदेश में चौथे स्थान पर है भी रहा था. इसका खुलासा जिला सलाहकार समिति की समीक्षा बैठक में हुआ सितंबर से शुरू हुई इस तिमाही में बैंकों ने कुल लक्ष्य 9459.44 करोड़ के सापेक्ष 3036.54 करोड के ऋण वितरित किए.जिले का सीडी रेशियो 53.29 रहा मुख्य विकास अधिकारी ने बैंकों से सीडी रेशियों बढ़ाकर 60 फ़ीसदी तक ले जाने के निर्देश दिए हैं.

    कलेक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक में जिला पी.ओ डूडा (प्रभात मिश्रा) ने बताया कि जिले में बैंकों का कुल कारोबार 34481 करोड़ है.इसमें कुल जमा 22488 करोड़ तथा कुल 11993 करोड़ है जनपद का सीडी रेशियो 53.29 है इसे मार्च 2022 तक 60% से ऊपर करने की कोशिश की जा रही है. प्रधानमंत्री की प्राथमिकता वाली योजना में देश में दूसरे स्थान पर आना गर्व की बात है.इस सफलता का श्रेय नगर निगम, डूडा, बैंक व सामाजिक संगठनों के प्रयास को जाता है. जिन्होंने घर-घर पहुंचकर योजना का लाभ पात्र लोगों को दिलाने में योगदान दिया जिसकी वजह से योजना के अंतर्गत पटरी दुकानदारों, खोमचा, रेहड़ी लगाने वाले दुकानों को ₹ 10 हजार ऋण के रूप में दिया जाता है.

    Tags: Aligarh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर