होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अलीगढ़:-सीएम का आदेश लाउड एंड क्लियर, धार्मिक स्थलों से धड़ाधड़ उतर रहे हैं लाउडस्पीकर

अलीगढ़:-सीएम का आदेश लाउड एंड क्लियर, धार्मिक स्थलों से धड़ाधड़ उतर रहे हैं लाउडस्पीकर

अलीगढ़ में 183 ऐसे धार्मिक स्थल थे जहां बिना अनुमति के लाउडस्पीकर लगे हुए थे.जिनको अब हटवा दिया गया है.शहरी क्षेत्र में ...अधिक पढ़ें

    अलीगढ़ में 183 ऐसे धार्मिक स्थल थे जहां बिना अनुमति के लाउडस्पीकर लगे हुए थे.जिनको अब हटवा दिया गया है.शहरी क्षेत्र में 122 और देहात क्षेत्र में 61 धार्मिक स्थल थे इसके अलावा 912 धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर की आवाज कम कराई गई जिसमें से 618 लाउडस्पीकर शहरी इलाके के थे.वर्ष 2018 में धार्मिक स्थलों का सर्वे किया गया था.जिसमें 1468 स्थानों पर लाउडस्पीकर के द्वारा अजान व आरती की जाती थी.शहर के क्वार्सी व सिविल लाइंस में 287, कोतवाली, सासनी गेट, देहली गेट, वारो रावत क्षेत्र में 252 और बन्नादेवी का गांधी पार्क में 110 स्थान ऐसे हैं जहां लाउडस्पीकर से मस्जिदों में अजान और मंदिरों में आरती की जाती है.

    बीते सप्ताह जिलाधिकारी द्वारा सभी थाना प्रभारियों से अपने-अपने इलाके में लगे धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर की रिपोर्ट मांगी थी.इसके साथ यह भी कहा गया था कि जिन धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर है उन सभी की आवाज कम कराई जाए.जिलाधिकारी के आदेश पर थाना प्रभारियों ने उनके इलाके में लगे लाउडस्पीकर की आवाज कम करवाई और बाकी लाउडस्पीकर को बंद कराने के लिए प्रशासन को रिपोर्ट दे दी गई.जिसके आधार पर यह कार्यवाही हुई है.

    मोहम्मद आबाद ने सीएम योगी का आभार व्यक्त किया और कहा कि हम सीएम के आदेश का स्वागत करते हैं हम खुद अपने हाथों से लाउडस्पीकर को उतारेंगे और शहर में अमन और शांति का संदेश देंगे.

    आपके शहर से (अलीगढ़)

    अलीगढ़
    अलीगढ़

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें