होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अलीगढ़:-पिता साइकिल से घर-घर पहुंचाता है सिलेंडर और बेटे ने शाहरुख खान की टीम को दिला दी जीत

अलीगढ़:-पिता साइकिल से घर-घर पहुंचाता है सिलेंडर और बेटे ने शाहरुख खान की टीम को दिला दी जीत

अलीगढ़:-आईपीएल के कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी रिंकू सिंह ने क्रिकेट में अपना नाम रोशन किया है.कोलकाता नाइट राइडर्स ...अधिक पढ़ें

    अलीगढ़:-आईपीएल के कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी रिंकू सिंह ने क्रिकेट में अपना नाम रोशन किया है.कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ी रिंकू सिंह का नाम 5 साल पहले सुनने में आया था.रिंकू सिंह उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर से क्रिकेटर हैं जोकि आईपीएल की टीम में शामिल हुए हैं.रिंकू सिंह को शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए चुना गया था.रिंकू सिंह ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ एक अच्छी पारी खेली और टीम को जीत दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.

    रिंकू सिंह बहुत ही गरीब परिवार से ताल्लुक रखते हैं.पांच भाई-बहनों में रिंकू सिंह तीसरे नंबर के हैं.इनके परिवार ने काफी मुसीबतों का सामना किया है.रिंकू सिंह के पिता धानचंद सिंह अलीगढ़ में सिलेंडर घर–घर पहुंचाते हैं और रिंकू सिंह का बड़ा भाई ऑटो रिक्शा और दूसरा भाई कोचिंग सेंटर में काम करता है.रिंकू सिंह ने अपने परिवार का नाम रोशन कर दिया है.रिंकू के परिवारीजन अलीगढ़ के स्टेडियम के पास एलजी कंपनी के स्टोरेज कंपाउंड में रहते थे.जहां उन्हें सिर्फ दो कमरों का क्वार्टर मिला हुआ था.

    रिंकू सिंह बहुत ज्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं उनका मन शुरू से ही खेलकूद में लगता था.उन्होंनेअपना कैरियर क्रिकेट में ही बनाया.रिंकू यूपी के अंडर-19 टीम में खेलते थे.

    आपके शहर से (अलीगढ़)

    अलीगढ़
    अलीगढ़

    रिंकू सिंह के परिवार पर 5 लाख से ज्यादा का कर्ज था और इनके घर वालों को इनका क्रिकेट खेलना बिल्कुल भी पसंद नहीं था.पहली बार रिंकू ने 2012 में एक स्कूल टूर्नामेंट में बाइक जीती थी.जिसकी वजह से घर वालों का मन बदल गया. शुरू–शुरू में जो भी पैसा कमाया उससे पहले अपने घर का कर्जा चुकाया.रिंकू सिंह की कामयाबी की कहानी दिल को छू लेने वाली है.काफी संघर्ष के बाद वह आज इस मुकाम पर हैं इनकी कहानी हम सबको प्रेरणा देती है.

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें