Aligarh Corona Death: प्राइवेट हॉस्पिटल में 5 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत, परिजनों ने ऑक्‍सीजन न मिलने का लगाया आरोप

अलीगढ़ के एसजेडी अस्पताल में पांच कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत

अलीगढ़ के एसजेडी अस्पताल में पांच कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत

Aligarh Corona Deaths: धनीपुर स्थित एसजेडी कोविड अस्पताल के आईसीयू में भर्ती अलीगढ़ व एटा के पांच संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ दिया. घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासन व स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 22, 2021, 6:46 AM IST
  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जनपद के एक प्राइवेट हॉस्पिटल (Private Hospital) में बुधवार रात 5 कोरोना संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ (Corona Deaths) दिया. परिजनों का आरोप है कि समय से ऑक्सीजन न मिलने की की वजह से मौत हुई है. अस्पताल प्रबंधन ने इस बात से इनकार किया है. हॉस्पिटल का कहना है कि सभी पांच मरीज सीनियर सिटीजन की श्रेणी के थे. इन सभी के फेफड़े अधिक संक्रमित हो चुके थे, जिसकी वजह से इनकी मौत हुई है.

बुधवार को धनीपुर स्थित एसजेडी कोविड अस्पताल के आईसीयू में भर्ती अलीगढ़ व एटा के पांच संक्रमित मरीजों ने दम तोड़ दिया. घटना की जानकारी मिलते ही प्रशासन और स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मच गया. मृतकों के परिजनों का आरोप है कि ऑक्सीजन न होने की वजह से ऐसा हुआ. अगर समय रहते ऑक्सीजन मिल जाती तो जान न जाती. इसके बाद मरीजों के तीमारदारों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया. उनका कहना था कि हॉस्पिटल में भर्ती 5 मरीजों को 3 घंटो से ऑक्सीजन नहीं दिया गया था.

इनकी हुई मौत

हॉस्पिटल में ऑक्सीजन न मिलने पर एक 54 वर्षीय महिला सरिता रानी, 30 वर्षीय मुकेश, 50 वर्षीय जयवीर, अनिल कश्यप के साथ एक अन्य मरीज की मौत हुई.
सभी मरीज क्रिटिकल कंडीशन में थे

एसजेडी अस्पताल के संचालक डॉ. संजीव शर्मा ने बताया कि सभी पांच मरीज लेबल-थ्री की क्रिटिकल कंडीशन में थे. सभी को वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया था.  परिजनों को कई बार कहा गया था कि मरीजों को लेवल थ्री के हॉस्पिटल ले जाएं, लेकिन वे कहीं लेकर नहीं गए. मरीजों की मौत हो गई तो परिजन तमाम आरोप लगा रहे हैं. अगर ऑक्सीजन की कमी से मौत हुई है तो पोस्टमार्टम करवा लें, स्पष्ट हो जाएगा.

ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं



नोडल अधिकारी (ऑक्सीजन) विनीत कुमार सिंह ने कहा कि एसजेडी अस्पताल द्वारा करीब सवा नौ बजे ऑक्सीजन की मांग की गई थी. जिसके बाद सवा दस बजे अस्पताल को 40 सिलेंडर की आपूर्ति करवा दी गई. अस्पताल में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज