होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अलीगढ़ को मिली 41 नई रोडवेज बसों की सौगात, लोगों को अब नहीं करना पड़ेगा इंतजार

अलीगढ़ को मिली 41 नई रोडवेज बसों की सौगात, लोगों को अब नहीं करना पड़ेगा इंतजार

प्रदेश मुख्यालय से जारी आदेशों के आधार पर अलीगढ़ परिक्षेत्र के 19 रूटों पर 41 नई अनुबंधित बसें चलाई जाएंगी (फोटो- NEWS18)

प्रदेश मुख्यालय से जारी आदेशों के आधार पर अलीगढ़ परिक्षेत्र के 19 रूटों पर 41 नई अनुबंधित बसें चलाई जाएंगी (फोटो- NEWS18)

अलीगढ़ को 41 रोडवेज बसें मिल रही हैं, जो 19 रूटों पर चलेंगी. रोडवेज की बसों से सफर करने वाले यात्रियों के लिए यह खबर रा ...अधिक पढ़ें

    रिपोर्ट – वसीम अहमद
    अलीगढ़ वासियों के लिए खुशखबरी है. यहां के लोगों को अब रोडवेज बसों की किल्लतन हीं होगी.अब लखनऊ, कानपुर, बरेली, मुरादाबाद, सिकंदराराऊ, हाथरस, आगरा, मथुरा, बल्लभगढ़, नोएडा आदि लोकल रूटों पर भी बसों की कमी नहीं होगी. अलीगढ़ को 41 रोडवेज बसें मिल रही हैं, जो 19 रूटों पर चलेंगी. रोडवेज की बसों से सफर करने वाले यात्रियों के लिए यह खबर राहत देने वाली है. प्रदेश मुख्यालय से जारी आदेशों के आधार पर अलीगढ़ परिक्षेत्र के 19 रूटों पर 41 नई अनुबंधित बसें चलाई जाएंगी. इसके लिए रूटों को चिन्हित किया गया है.

    परिवहन निगम ने शासन के निर्देश पर साधारण, वातानुकूलित एवं स्लीपर क्लास की प्राइवेट बसों के साथ करार की प्रक्रिया शुरू कर दी है. नए साल पर लोगों को नई अनुबंधित बसों की सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी. नई व्यवस्था के तहत उत्सर्जन मानक भारत स्टेज- 6 (बीएस-6) वाली दो वर्ष पुरानी बसों को शहरी क्षेत्रों में एवं भारत स्टेज-4 (बीएस- 4) वाली चार साल पुरानी बसें ग्रामीण क्षेत्रों में चलाई जाएंगी. चालकों की तैनाती और बसों का रख-रखाव संचालक करेंगे. जबकि इन बसों पर परिचालक परिवहन निगम के होंगे.

    इन रूटों पर चलेंगी बसें

    लखनऊ, कानपुर, इटावा, फिरोजाबाद, आगरा, मथुरा, सिकंदराराऊ, हाथरस, कासगंज, एटा, बरेली, मुरादाबाद, बल्लभगढ़, नोएडा, हरिद्वार, ऋषिकेश, सहारनपुर, देहरादून जैसे लंबे रूटों पर भी बसों का संचालन होगा. परिवहन निगम के अलीगढ़ परिक्षेत्र की क्षेत्रीय प्रबंधक शरद सिंह ने NEWS 18 LOCAL को बताया कि शासन के दिशा-निर्देश पर प्राइवेट बसों को अनुबंध की श्रेणी में लाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. प्रथम चरण में 19 रूटों पर 41 अनुबंधित बसों को चलाने की तैयारी है.दूसरे चरण में भी इतनी ही बसें संचालित करने की व्यवस्था की जा रही है.

    अवैध वाहनों पर लगेगी रोक
    परिवहन निगम ने यात्रियों को बसों की कमी के साथ ही अवैध वाहनों के संचालन पर रोक लगाने के लिए रोडवेज के बेड़े में कुल बसों की संख्या के सापेक्ष 75 प्रतिशत अनुबंधित (प्राइवेट) बसें शामिल करने का निर्णय लिया है. अभी तक निगम के बेड़े में अधिकतम 30 प्रतिशत अनुबंधित बसें शामिल होती रहीं हैं.अलीगढ़ परिक्षेत्र ने भी अपने बेड़े में अनुबंधित बसों की संख्या बढ़ाने की कवायद तेज कर दी है. इसके लिए रूट भी निर्धारित कर दिए गए हैं.

    आपके शहर से (अलीगढ़)

    अलीगढ़
    अलीगढ़

    Tags: Aligarh news, Bus Services

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें