अलीगढ़: जामिया उर्दू के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरन धर्म परिवर्तन का आरोप, मुकदमा दर्ज
Aligarh News in Hindi

अलीगढ़: जामिया उर्दू के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरन धर्म परिवर्तन का आरोप, मुकदमा दर्ज
जामिया उर्दू अलीगढ़

गार्डनर सुपरवाइजर कमल सिंह (Kamal Singh) का आरोप है कि रजिस्ट्रार शमुनरजा नकबी और ओएसडी फरहत अली खां ने उनपर धर्म परिवर्तन के लिए दबाब बनाया.

  • Share this:
अलीगढ़. जामिया उर्दू मेडिकल कॉलेज (Jamia Urdu Medical College) के रजिस्ट्रार और ओएसडी पर जबरन धर्म परिवर्तन करवाने का दबाव बनाने का आरोप लगा है. इस मामले में डीआईजी से शिकायत के बाद विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. दरअसल, क्वार्सी थाना क्षेत्र के नई आबादी कमला नगर निवासी कमल सिंह पुत्र स्व. दौलत सिंह ने डीआईजी के नाम लिखित शिकायत में कहा है कि वह करीब 10 साल से जामिया उर्दू मेडिकल रोड में गार्डनर सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत हैं. उनके खाते में हर माह पीएफ काटकर वेतन आता रहता था, लेकिन सितम्बर 2019 में ड्यूटी जाने पर रजिस्ट्रार शमुनरजा नकबी और ओएसडी फरहत अली खां ने उनपर धर्म परिवर्तन के लिए दबाब बनाया. जब उन्‍होंने इसका विरोध किया तो दोनों आरोपियों ने उनकी हाजिरी और वेतन पर रोक लगा दी.

धर्म न बदलने पर जान से मारने की धमकी
कमल सिंह का कहना है कि इसके बावजूद वह लगातार ड्यूटी पर जाते रहे, लेकिन उनकी हाजिरी नहीं लगती थी और न ही वेतन मिला. वह पत्नी मीना देवी के साथ कई बार रजिस्ट्रार और ओएसडी से मिले लेकिन हर बार धर्म परिवर्तन करने का दबाब बनाते हुए 15 दिन बाद आने की बात कहकर टाल दिया जाता रहा. आरोप है कि 24 दिसम्बर की सुबह कमल सिंह और उनकी पत्नी पर फिर दोनों ने फिर से धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया था. नौकरी से हटाने और पूरे परिवार को जान से मरवाने की धमकी तक दी गई. इसके बाद कमल सिंह ने डीआईजी को शिकायत सौंप कर पूरे मामले की जांच कराकर मुकद्दमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की मांग की है.





बीजेपी ने दी आंदोलन की चेतावनी
मामले में बीजेपी नेता मनोज शर्मा, रीता राजपूत समेत एक दर्जन नेताओं ने विरोध जताते हुए डीआईजी से मिलकर तत्‍काल कार्रवाई की मांग की है. उन्होंने चेतावनी दी कि जामिया उर्दू के रजिस्ट्रार और ओएसडी के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई नहीं की गई तो आंदोलन किया जाएगा. इस पर डीआईजी प्रितेंद्र कुमार ने आवश्‍यक निर्देश देते हुए उन्‍हें एसएसपी के पास भेजा.

आरोप सही पाए जाने पर होगी कार्रवाई
एसएसपी आकाश कुलहरि ने क्वार्सी थाने के इंस्पेक्टर को तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. एसएसपी के आदेश के बाद इंस्पेक्टर ने तत्काल प्रभाव से रजिस्ट्रार और ओएसडी के खिलाफ धारा 153a, 406, 506 में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. पूरे मामले में एसएसपी का कहना है कि अगर आरोप सही पाए जाते हैं तो जल्द ही कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

 

ये भी पढ़ें:

CAA Protest: AMU के 10 हजार छात्रों के खिलाफ RAF ने दर्ज कराई FIR....

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading