Home /News /uttar-pradesh /

अलीगढ़:-यूक्रेन में फंसे अलीगढ़ के तीन दर्जन एमबीबीएस छात्र,परिजनों ने सरकार से फंसे छात्रों को एयरलिफ्ट कराने की

अलीगढ़:-यूक्रेन में फंसे अलीगढ़ के तीन दर्जन एमबीबीएस छात्र,परिजनों ने सरकार से फंसे छात्रों को एयरलिफ्ट कराने की

अलीगढ़ के तीन दर्जन से ज्यादा छात्र यूक्रेन में फंसे हुए हैं.ये छात्र यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं.लेकिन रुस द्वारा यूक्रेन को चारों तरफ से घेर लेने से युद्ध की आशंका बनी हुई है और भारत सरकार ने यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को स्वयं अपना प्रबंध कर वापस आ?

अधिक पढ़ें ...

    अलीगढ़ के तीन दर्जन से ज्यादा छात्र यूक्रेन में फंसे हुए हैं.ये छात्र यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे हैं.लेकिन रुस द्वारा यूक्रेन को चारों तरफ से घेर लेने से युद्ध की आशंका बनी हुई है और भारत सरकार ने यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को स्वयं अपना प्रबंध कर वापस आने की बात कही है.यूक्रेन में फंसे छात्रों के परिवार इसे काफी दुखदायी स्थिति बता रहे हैं.युद्ध की आशंका के चलते अमेरिका ने अपने नागरिकों को तीन दिन पहले ही यूक्रेन छोड़ने का फरमान सुना दिया था लेकिन भारतीय दूतावास द्वारा स्थिति को गंभीरतापूर्व नहीं लिया गया.अलीगढ़ के पंकज धीरज की पुत्री यूक्रेन में एमबीबीएस कर रही हैं.बेटी को लेकर पंकज धीरज चिंतित हैं यूक्रेन में फंसे छात्रों को लेकर अलीगढ़ के परिजन काफी चिंतित हैं. परिजन सोशल मीडिया के जरिये छात्रों से संपर्क में हैं वहीं यूक्रेन से इंडिया आने वाली हवाई सेवाएं भी रद्द हो गई हैं.

    हवाई भाड़ा किराया जहां 22 हजार रुपये लगते थे अब वहीं किराया डेढ़ लाख से लेकर दो लाख रुपए लिया जा रहा है.अलीगढ़ के रहने वाले भारतीय छात्र परेशान हैं और प्रधानमंत्री व विदेश मंत्री के साथ ही दूतावस को मेल, ट्वीट कर रहे हैं.वहीं युद्ध की विभीषिका से बचने के लिए यूक्रेन में जगह–जगह बंकर बनाये जा रहे हैं.अंडर ग्राउंड मेट्रो स्टेशन व बेसमेंट में लोग बचने की जगह बना रहे हैं.वहीं यूक्रेन के चर्च में प्रार्थना की जा रही है कि युद्ध न हो और शांति की अपील भी की जा रही है.इन हालातों के बीच भारतीय लोग यूक्रेन में फंसे हैं.

    भारत आने वाली कई फ्लाइटों को कैंसिल भी किया जा रहा है फ्लाइट भी अगले कई दिनों तक उपलब्ध नहीं हैं.हालाकि इस समय भारत से करीब 20 हजार छात्र -छात्राएं यूक्रेन मेंअध्ययन कर रहें हैं. यूक्रेन में फंसे बच्चों की पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था करने के साथ,आपातकालीन स्थिति में उनको भारत लाने के लिए ‘एयर लिफ्ट’ की व्यवस्था भारत सरकार द्वारा करने की मांग की जा रही है.

    Tags: Aligarh news

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर