अलीगढ़: छैमार गैंग का सरगना भीका पुलिस मुठभेड़ में ढेर, 100 से अधिक हत्याओं में था वांछित

भीका गांव चिनियावली जिला संभल का रहने वाला है. भीका छैमार गैंग का सरगना बताया गया है. भीका पर 100 से अधिक हत्याओं के केस दर्ज हैं.

Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 23, 2018, 11:20 AM IST
अलीगढ़: छैमार गैंग का सरगना भीका पुलिस मुठभेड़ में ढेर, 100 से अधिक हत्याओं में था वांछित
पुलिस मुठभेड़ में मारा गया इनामी बदमाश भीका
Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: May 23, 2018, 11:20 AM IST
अलीगढ़ के थाना टप्पल इलाके के घरभरा में पुलिस और बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़ में 50 हजार का इनामी मोहम्मद मियां उर्फ भीका ढेर हो गया. जबकि अंधेरे का फायदा उठाकर उसके दो साथी मौके से फरार हो गया. मारा गया अपराधी भीका गैंग का सरगना था. उसके ऊपर अलीगढ़ और कासगंज पुलिस ने 25-25 हजार का इनाम घोषित कर रखा था. पिछले दिनों थाना दादों के सीकरी में हुई मुठभेड़ के दौरान भीका फरार होने में कामयाब हो गया था.

दरअसल, मुखबिर ने सूचना दी थी कि थाना टप्पल इलाके में बड़ी डकैती की वारदात को अंजाम देने की साजिश रची जा रही है. जिसके बाद पुलिस ने गैंग को धर दबोचने का प्लान बनाया. इस बीच सूचना मिली कि टप्पल के गांव घरबरा में कुछ अपराधी ठहरे हैं. पुलिस ने मंगलवार देर रात दबिश डाल कर इन्हें पकड़ने की कोशिश की. इस बीच बदमाशों ने खुद को घिरा देख  पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी. इसके बाद पुलिस ने जवाबी फायरिंग की. पुलिस की गोली से भीका घायल होकर वहीं गिर पड़ा, जबकि उसके दो अन्य साथी अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार होने में सफल रहे.

पुलिस ने भीका को सीएचसी पहुंचाया जहां से उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया. जिला अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. मृतक भीका के पास से एक डायरी बरामद हुई है, जिसमें कुछ नंबर भी लिखे हुए हैं. भीका गांव चिनियावली जिला संभल का रहने वाला है. भीका छैमार गैंग का सरगना बताया गया है. भीका पर 100 से अधिक हत्याओं के केस दर्ज हैं.

वहीं पता चला है कि मोहम्मद मियां उर्फ भीका हाल ही में दादों थाना इलाके के सीकरी के जंगलों में मुठभेड़ के दौरान मारे गए तीन बदमाशों के साथ भी मौजूद था. लेकिन उस समय उसकी किस्मत ने उसका साथ दिया और वह भागने में सफल रहा. इसके ऊपर कासगंज और अलीगढ़ पुलिसने 25-25 हजार का इनाम घोषित किया हुआ है. इसकी पुलिस पिछले काफी समय से तलाश कर रही थी.

पुलिस इसे बड़ी कामयाबी मान रही है. फिलहाल पुलिस और बदमाशों के बीच जहां मुठभेड़ हुई थी वहां अभी कॉन्बिंग और आसपास छानबीन की जा रही है. मौके से पुलिस को कुछ असलाह भी बरामद हुआ है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर