AMU प्रदर्शन: अलीगढ़ SSP ने 12 छात्रों के खिलाफ यूनिवर्सिटी प्रशासन को लिखा पत्र, कार्रवाई की मांग
Aligarh News in Hindi

AMU प्रदर्शन: अलीगढ़ SSP ने 12 छात्रों के खिलाफ यूनिवर्सिटी प्रशासन को लिखा पत्र, कार्रवाई की मांग
एएमयू प्रदर्शन को लेकर अलीगढ़ पुलिस ने यूनिवर्सिटी एडमिनिस्ट्रेशन को पत्र लिखा है.

एसएसपी (SSP) ने बताया कि इसके साथ ही हम लोग एक कार्रवाई गुंडा एक्ट के तहत भी कर रहे हैं. ये वो लोग हैं, जो यूनिवर्सिटी में हंगामा करने गए थे और इन लोगों का आपराधिक इतिहास भी है. एसएसपी ने बताया कि अभी 4 लड़के ऐसे चिन्हित हुए हैं, जिनका आपराधिक इतिहास था और वह बाहरी थे.

  • Share this:
अलीगढ़. बीते 15 दिसम्बर को अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) में छात्रों की पुलिस से हुई हिंसक झड़प को लेकर अलीगढ़ एसएसपी (Aligarh SSP) आकाश कुलहरि ने एएमयू प्रशासन को पत्र लिखा है. एसएसपी के अनुसार उन्होंने यूनिवर्सिटी प्रशासन को लिखे पत्र में ये मांग की है कि 12 दोषी छात्रों की पहचान फ़ोटो व वीडियो फुटेज के आधार पर की गई है, इसलिए उन छात्रों के विरुद्ध यूनिवर्सिटी प्रशासन कार्यवाही करे. उन्होंने कहा कि दोषी छात्रों के फोटो व वीडियो विवेचना में ये पाए गए थे कि इन लोगों ने पथराव व फायरिंग की थी.

गुंडा एक्ट के तहत भी हो रही कार्रवाई

एसएसपी ने बताया कि इसके साथ ही हम लोग एक कार्रवाई गुंडा एक्ट के तहत भी कर रहे हैं. ये वो लोग हैं, जो यूनिवर्सिटी में हंगामा करने गए थे और इन लोगों का आपराधिक इतिहास भी है. एसएसपी ने बताया कि अभी 4 लड़के ऐसे चिन्हित हुए हैं, जिनका आपराधिक इतिहास था और वह बाहरी थे. ऐसे लोगों के विरुद्ध हम लोग ज़िला प्रशासन को गुंडा एक्ट के तहत कार्यवाही के लिए भेज रहे हैं, जिनको वह ज़िला बदर की कार्यवाही में शामिल करें.



बता दें नागरिकता संशोधन कानून (CAA)को लेकर पिछले दिनों एएमयू परिसर में हुए बवाल के बाद अब प्रशासन पूरे एक्शन में आ गया है. आरएएफ (RAF) ने एएमयू के 10 हजार छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है, वहीं एएमयू में छात्र-छात्राओं ने प्रदर्शन के दौरान नए कानून की प्रतियां फाड़कर विरोध किया. एएमयू में 15 दिसंबर को जमकर बवाल हुआ था हालांकि उस समय छात्रों ने पुलिस पर ज्यादती का आरोप लगाया था लेकिन CCTV में कैद हुई तस्वीरों ने बवाल की कुछ अलग ही तस्वीर बयां की.
शासन को भेजी गई रिपोर्ट
आरोप लगाया है कि 10 हजार छात्रों ने आरएएफ पर हमला किया था. छात्रों ने पथराव कर सरकारी संपत्ति में तोडफ़ोड़ भी की थी भीड़ ने देश विरोधी नारे भी लगाए थे. CCTV फुटेज के जरिये कई छात्रों को चिह्नित कर पुलिस उनका रिकॉर्ड खंगालने में जुटी है. इस बवाल में 1.83 लाख की संपत्ति के नुकसान का आकलन हुआ है जिसकी रिपोर्ट डीएम चंद्रभूषण सिंह ने शासन को रिपोर्ट भेज दी है. जिले में 1.83 लाख की सरकारी क्षतिग्रस्त संपत्ति में आरएएफ के आधा दर्जन वाहनों में 1.15 लाख का नुकसान पहुंचा. देहलीगेट क्षेत्र में चार सीसीटीवी कैमरे, 12 कुर्सी व एक यातायात बैरियर को क्षति पहुंचाई गई इसमें करीब 68 हजार का नुकसान हुआ, एसएसपी आकाश कुलहरि से मिली नुकसान के आकलन की रिपोर्ट को डीएम चंद्रभूषण सिंह को भेजा गया था.

ये भी पढ़ें:

अजय पाठक हत्याकांड: आरोपी बोला- पैसा नहीं दिए तो कर दिया नरसंहार

दबंगों पर युवक को जिंदा जलाने का आरोप, पुलिस बोली- खुद लगाई आग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज