लाइव टीवी

CAB को लेकर AMU में जमकर प्रदर्शन, 520 छात्रों पर केस दर्ज, कैंपस में सुरक्षा बल तैनात

News18 Uttar Pradesh
Updated: December 11, 2019, 1:07 PM IST
CAB को लेकर AMU में जमकर प्रदर्शन, 520 छात्रों पर केस दर्ज, कैंपस में सुरक्षा बल तैनात
कैंपस में किसी भी तरह की हिंसा को रोकने के लिए बड़ी संख्या में सुरक्षा बल को तैनात किया गया है.

बड़ी संख्या में छात्र मंगलवार रात को हाथों में मशाल लेकर सड़कों पर उतर आये. इस दौरान CAB को वापस लेने की मांग करते रहे.

  • Share this:
अलीगढ़. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (Aligarh Muslim University) के छात्रों का गुस्सा नागरिकता संशोधन बिल (CAB) को लेकर लगातार बढ़ता ही जा रहा है. मंगलवार रात लाइब्रेरी कैंटीन पर एकत्रित हुए छात्रों के सैलाब ने हाथों में मशाल लेकर यूनिवर्सिटी सर्किल तक प्रोटेस्ट मार्च (Protest March) निकाला. इस दौरान केंद्र सरकार, प्रदेश सरकार व नागरिकता संशोधन बिल के विरोध में छात्र जमकर नारे लगाते रहे. जिसके बाद पुलिस (Police) ने भी 20 छात्रों पर नामजद व 500 अज्ञात छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है.

छात्रों ने कहा इस बिल को नहीं करेंगे बर्दाश्त
प्रदर्शनकारी छात्रों ने कहा कि इस बिल को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. किसी भी सूरतेहाल में हम इस बिल को स्वीकार नहीं करते हैं. दिल्ली जाकर राज्यसभा सांसदों से मिलेंगे व बिल के विरोध में वोट कराने की अपील भी करेंगे. मंगलवार रात सैकड़ों की संख्या में छात्र हाथों में मशाल जुलूस लेकर सड़कों पर उतर आये. इस दौरान नागरिकता संशोधन बिल को वापस लेने की मांग करते रहे. इतना ही नहीं इस दौरान केंद्र और राज्य सरकार विरोधी नारे भी लगाए गए.

कैंपस की बढ़ाई गई सुरक्षा

छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए जिला प्रशासन ने कैंपस में भारी सुरक्षा बल की तैनाती की गई है. पुलिस फोर्स के साथ ही आरएएफ की कई बटालियन तैनात की गई है. किसी भी तरह के प्रदर्शन या हिंसक घटना को रोकने के लिए भारी फोर्स ने पूरे कैंपस को घेर लिया है.



'बिल से देश का सेक्युलर माहौल होगा खत्म'छात्रसंघ अध्यक्ष सलमान इम्तियाज ने कहा कि पिछले तीन दिन से हम लोग नागरिकता संशोधन बिल व एनआरसी के विरोध में प्रोटेस्ट कर रहे थे. आज यूनिवर्सिटी के सभी छात्रों ने बड़ी संख्या में सड़क पर उतरकर इस हिटलरशाही बिल का विरोध किया है. सलमान ने कहा कि गर ये बिल पास हो जाता है तो कहीं न कहीं इस देश का जो सेक्युलर माहौल है वो खत्म हो जाएगा. ये बिल एंटी मुस्लिम होने के साथ साथ एंटी कल्चरल भी है. हम राज्यसभा के हर सांसद से ये अपील करते हैं कि वह इस बिल के खिलाफ अपना वोट दें. उन्होंने कहा कि हम एक दो दिन के अंदर संसद का भी घेराव घेराव करेंगे.

ये भी पढ़ें: प्रियंका गांधी के निर्देश पर नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी यूपी कांग्रेस

हरदोई: दूल्हा-दुल्हन को तौहफे में मिला बड़ा डिब्बा, खोला तो निकले प्याज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अलीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 11:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर