शराब माफिया को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, दारोगा और 2 महिला कांस्टेबल घायल
Aligarh News in Hindi

शराब माफिया को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, दारोगा और 2 महिला कांस्टेबल घायल
अलीगढ़ में रेड डालने गई पुलिस टीम पर हमला हुआ है.

अलीगढ़ (Aligarh) में थाना पालीमुकीमपुर से शराब तस्करी के मामले में वांछित जागन मल्लाह पुत्र लाखन उर्फ कड्डे व उसका बेटा संजू निवासी सांकरा को पकड़ने के लिए पाली व दादों पुलिस की टीम रात 9 बजे गांव पहुंची थी.

  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ (Aligarh) में पुलिस टीम पर हमले की खबर है. मामला जिला अलीगढ़ के थाना दादों के क्षेत्र के गांव सांकरा का है. यहां गुरुवार की देर रात एक शराब माफिया (Liquor Mafia) को पकड़ने गई पुलिस पर महिलाओं ने घरों और छतों से पथराव कर आरोपी को पुलिस से छुड़ा फरार कर दिया. इस पथराव में एक दारोगा के सिर में गंभीर चोट आई है, वहीं 2 महिला सिपाही भी घायल हुई हैं. पथराव की सूचना के बाद 2 थानों का फोर्स पहुंची, तब तक उपद्रवी फरार हो गए.

पुलिस ने जागन को पकड़ लिया और गाड़ी में बिठाकर ले जाने लगी, तभी...

दरअसल अलीगढ़ में वांछित अपराधियों को पकडऩे का अभियान चल रहा है. इसी क्रम में थाना पालीमुकीमपुर से शराब तस्करी के मामले में वांछित जागन मल्लाह पुत्र लाखन उर्फ कड्डे व उसका बेटा संजू निवासी सांकरा को पकड़ने के लिए पाली व दादों पुलिस की टीम रात 9 बजे गांव पहुंची थी. टीम में सांकरा चौकी इंचार्ज नीलेश, एसआई हरिकेश यादव, दो महिला सिपाही समेत 12-14 पुलिसकर्मी शामिल थे. पुलिस ने जागन को पकड़ लिया और गाड़ी में बिठाकर ले जाने लगी.



जमकर पथराव में दरोगा हरिकेश और पुलिसकर्मी घायल
इसी बीच पीछे से जागन के बेटी व बेटे आ गए. इस दौरान मौके पर मौजूद महिलाओं ने विरोध शुरू करते हुए हाथापाई कर दी. देखते ही देखते लाठी-डंडों, रॉड से हमला कर दिया. पत्थर भी फेंके और जागन को छुड़ा लिया. पुलिस ने भी महिलाओं को फटकारा, लेकिन तब तक छतों से पथराव शुरू हो गया. भगदड़ मच गई. इसमें दारोगा हरिकेश के सिर में गंभीर चोट आई और वह अचेत होकर गिर गए. महिला सिपाही शिवानी व अनीता के भी पत्थर लगे, जिससे उन्हें चोट आई है. ये घायल दारोगा को पुलिस छर्रा सीएचसी लेकर पहुंची. बाद में पालीमुकीमपुर एसओ व दादो एसओ पुलिस बल के साथ पहुंचे, तब तक सभी आरोपित फरार हो गए. पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है.

दो महीने पहले रेड में भाग निकला था जागन

दरअसल जागन कच्ची शराब बनाकर बेचता है. पालीमुकीमपुर थाने के गांव बबरौतिया भरनैरा में जागन की भट्टियां थीं, जहां रोजाना 400 लीटर शराब बनती थी. इन्हें अलग-अलग इलाकों में सप्लाई किया जाता था. दो माह पहले पुलिस ने छापा मारकर 250 लीटर शराब पकड़ी थी. दो लोग भी गिरफ्तार हुए, मगर जागन और उसका बेटा संजू भाग निकले. तभी से दोनों वांछित थे. सांकरा गांव के प्रधान ब्रजेश यादव ने कहा कि जागन का परिवार किसी से मतलब नहीं रखता है. पूरा गांव इससे परेशान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज