अभद्रता के मामले में कभी AMU से 'निकाले' गए थे आजम खान

अभद्रता करने के मामले में आजम खान को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से कभी निकाला भी गया था. 1975 में एलएलएम की पढ़ाई के दौरान उन पर यह कार्रवाई हुई थी.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 9, 2019, 3:40 PM IST
अभद्रता के मामले में कभी AMU से 'निकाले' गए थे आजम खान
अभद्रता के मामले में आजम खान को AMU से किया गया था रस्टीकेट.
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 9, 2019, 3:40 PM IST
अभद्रता करने के एक मामले में समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान (Azam Khan) को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से रस्टीकेट किया गया था. 1975 में एलएलएम की पढ़ाई के दौरान उन पर यह आरोप लगाया गया था.

इंतजामिया ने आजम खान को एक साल के लिए रेस्टीकेट किया था. 1975 में इमरजेंसी के दौरान भी आजम खान जेल गए थे. वीमेंस कॉलेज में दिल्ली से आई टीम से भी अभद्रता करने का उन पर आरोप लगा था. गौरतलब है कि 1975 में आजम खान एएमयू छात्र संघ के सचिव थे.

आजम खान पर कार्रवाई का एएमयू का पत्र.


आजम खान पर कार्रवाई का एएमयू का पत्र


आजम खान पर कार्रवाई का एएमयू का पत्र


आजम खान पर कार्रवाई का एएमयू का पत्र


हाईकोर्ट में किसानों ने दाखिल कर रखी है कैविएट एप्लीकेशन
Loading...

उधर बता दें हाल ही में जौहर अली यूनिवर्सिटी के लिए किसानों की जमीन जबरन हड़पने को लेकर आजम खान के खिलाफ किसानों ने 26 मुकदमे दर्ज कराए हैं. आजम खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वाले ये 26 किसान अब इलाहाबाद हाईकोर्ट भी पहुंच गए हैं. किसानों ने हाईकोर्ट में कैविएट एप्लीकेशन दाखिल कर एफआईआर को चुनौती दिए जाने की दशा में अदालत से उनका पक्ष सुने जाने की मांग की है. किसानों ने कहा है कि आजम खान की ओर से अगर एफआईआर को हाईकोर्ट में चुनौती दी जाती है तो अदालत उन्हें और उनके वकील को सुनवाई का पूरा मौका दे. वहीं पुलिस ने मुकदमा दर्ज होने के बाद आईपीसी की धारा 389 को भी बढ़ा दिया है. यह गैर जमानतीधारा है और इस धारा में 10 साल तक की सजा का भी प्रवाधान है.

26 किसानों की ज़मीन हड़पने का आरोप
आजम खान पर वर्ष 2003 से लेकर 2005 के बीच 26 किसानों की जमीन जबरन हड़पने और उसे जौहर अली यूनिवर्सिटी परिसर में शामिल करने का गम्भीर आरोप है. सभी किसानों ने जमीन हड़पे जाने के मामले में हाल ही में रामपुर के अजीम नगर थाने में सपा सांसद आजम खान के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 242, 447, 506 और 389 के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया है.

राजस्व निरीक्षक ने राज्य सरकार की ओर से दर्ज कराया है एक मुकदमा
गौरतलब है कि सपा सांसद मोहम्मद आजम खान लगातार मुश्किलों में घिरते जा रहे हैं. उनके खिलाफ जमीन हड़पने के मामले में कुल 27 मुकदमे अब तक दर्ज हो चुके हैं. 26 मुकदमे किसानों की ओर से दर्ज कराए गए हैं, जबकि एक मुकदमा राज्य सरकार की ओर से राजस्व निरीक्षक ने दर्ज कराया है, इस मुकदमे में भी उन पर जमीन हड़पने का आरोप लगाया गया है. रामपुर के किसान मतलूब, भुल्लन, मोहम्मद अलीम और अन्य ने हाईकोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता विजय गौतम के मार्फत इलाहाबाद हाईकोर्ट में कैविएट ऐप्लीकेशन दाखिल की है. गौरतलब है कि आजम खान से जुड़े कई मामलों की सुनवाई पहले से ही इलाहाबाद हाईकोर्ट में चल रही है.

रिपोर्ट - प्रशांत कुमार
First published: August 8, 2019, 11:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...