UP: अनामिका शुक्ला के दस्तावेजों पर अलीगढ़ में नौकरी करने वाली बबली गिरफ्तार
Aligarh News in Hindi

UP: अनामिका शुक्ला के दस्तावेजों पर अलीगढ़ में नौकरी करने वाली बबली गिरफ्तार
अलीगढ़ में नौकरी करने वाली बबली गिरफ्तार

बता दें कई जिलों में इस संबंध में एफआईआर (FIR0 दर्ज हैं. वहीं कासगंज की फ़र्ज़ी अनामिका गिरफ्तार भी हो चुकी है. कई जगह फर्जी टीचरों ने अपना इस्तीफा भेजा है.

  • Share this:
अलीगढ़. यूपी में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों (KGBV) में कई जगह अनामिका शुक्ला (Anamika Shukla) नाम से लोगों फर्जी तरीके से नौकरी की. इस मामले में रविवार को अलीगढ़ (Aligarh) के कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय, बिजौली ब्लॉक में अनामिका शुक्ला के दस्तावेजों से नौकरी करने वाली बबली को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

मास्टरमाइंड की तलाश

एसपी क्राइम डॉ अरविंद कुमार ने बताया कि अलीगढ़ के थाना पाली मुकीमपुर इलाके के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में अनामिका शुक्ला के नाम पर फर्जी तरीके से नौकरी करने वाली बबली यादव को गिरफ्तार किया गया है. यह बबली यादव कानपुर की रहने वाली थी और अपने ही एक रिश्तेदार के द्वारा 3 लाख देकर नौकरी पाई थी. एसपी के मुताबिक इस फर्जीवाड़े का मास्टरमाइंड पुष्पेंद्र जाटव है, जो इसी बबली यादव के एक की अन्य रिश्तेदार महिला को भी 3 लाख रुपये में नौकरी दिलवा चुका है. फिलहाल पुलिस ने आरोपी शिक्षका को गिरफ्तार कर मास्टरमाइंड युवक की तलाश शुरू कर दी है.



कानपुर देहात में किया फर्जीवाड़ा
अनामिका ने कानपुर देहात के ग्रामीण इलाके में ससुराल बताकर शिक्षा विभाग को चुना लगाया. अनामिका शुक्ला ने कानपुर देहात के रसूलाबाद में ससुराल बताकर फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनवाया. जिसके माध्यम से उसने जनसेवा केंद्र के माध्यम से बैंक में खाता खोलकर शिक्षा विभाग में उसको पंजीकृत करा दिया और विभाग से इसी खाते के माध्यम से वेतन भी उठाया.

जांच के दौरान अलीगढ़ पुलिस वहां पहुंची तो घर पर ताला लगा था. बैंक खाते में दिए गए पते की तलाश के दौरान वह तो नहीं मिली लेकिन पड़ौसियों ने उसे फोटो से पहचान लिया. उसका मानदेय कानपुर के सेंट्रल बैंक के खाते में जा रहा था, जिसमें उसका पता चंदनपुरवा, रसूलपुर, कानपुर है. इस पते पर गुरुवार को अलीगढ़ पुलिस पहुंची तो मकान बंद मिला. पड़ोसियों को फोटो दिखाया तो उसकी पहचान बबली के रूप में हुई.

एसटीएफ टीम ने जांच शुरू की

बता दें कई जिलों में इस संबंध में एफआईआर दर्ज हैं. वहीं कासगंज की फ़र्ज़ी अनामिका गिरफ्तार भी हो चुकी है. कई जगह फर्जी टीचरों ने अपना इस्तीफा भेजा है. उधर जानकारी के अनुसार जांच मिलते ही एसटीएफ टीम एक्टिव भी हो गई है. बता दें इस फर्जीवाड़े में बागपत, अलीगढ़, अम्बेडकर नगर, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, कासगंज, अमेठी, रायबरेली, प्रयागराज में फर्जीवाड़ा सामने आया है.

(रिपोर्ट- रंजीत राणा)

ये भी पढ़ें:

UP: सीएम आवास को उड़ाने की धमकी देने वाले 2 आरोपी गोंडा में गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading