Home /News /uttar-pradesh /

UP Election 2022: कांग्रेस को लगा झटका, अलीगढ़ सीट से प्रत्‍याशी सलमान इम्तियाज जिला बदर, जानें पूरा मामला

UP Election 2022: कांग्रेस को लगा झटका, अलीगढ़ सीट से प्रत्‍याशी सलमान इम्तियाज जिला बदर, जानें पूरा मामला

सलमान इम्तियाज को लेकर कांग्रेस अदालत का रुख करने की तैयारी कर रही है.

सलमान इम्तियाज को लेकर कांग्रेस अदालत का रुख करने की तैयारी कर रही है.

UP Election 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस को एक झटका लगा है. दरअसल अलीगढ़ शहर से कांग्रेस उम्मीदवार सलमान इम्तियाज (Salman Imtiaz) को 6 महीने के लिए जिला बदर का आदेश दिया गया है. कांग्रेस प्रत्‍याशी पर मार्च 2020 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में सीएए विरोधी आंदोलन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया गया था. वहीं, अलीगढ़ के अपर जिला मजिस्ट्रेट (शहर) राकेश कुमार पटेल ने बताया, 'सलमान इम्तियाज पर गुंडा अधिनियम के तहत मामला होने के आधार पर प्रतिबंध लगाया गया था, क्योंकि वह शहर की शांति के लिए खतरा थे.

अधिक पढ़ें ...

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) से पहले कांग्रेस के लिए बुरी खबर सामने आयी है. दरअसल अलीगढ़ शहर से कांग्रेस उम्मीदवार सलमान इम्तियाज (Salman Imtiaz) को जिले से बाहर रहने (जिला बदर) का आदेश दिया गया है. इस बात की जानकारी अलीगढ़ पुलिस (Aligarh Police) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को दी है. यही नहीं, इम्तियाज के घर पर शुक्रवार को 14 जनवरी का यह आदेश चस्पा किया गया है. जबकि गुरुवार यानी 20 फरवरी को कांग्रेस प्रत्‍याशी ने अपना नामांकन दाखिल किया था.

वहीं, अपर जिला मजिस्ट्रेट (शहर) राकेश कुमार पटेल ने बताया, ‘सलमान इम्तियाज पर गुंडा अधिनियम के तहत मामला होने के आधार पर प्रतिबंध लगाया गया था, क्योंकि वह शहर की शांति के लिए खतरा थे. हालांकि वह शीर्ष न्यायालय में आवेदन कर जमानत पा सकते हैं.’

सलमान इम्तियाज पर है ये आराप
बता दें कि इम्तियाज एएमयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष भी रहे हैं और उन पर पहले भी मार्च 2020 में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में सीएए विरोधी आंदोलन के मद्देनजर प्रतिबंध लगाया गया था. एएमयू के कई अन्य छात्र नेताओं को भी इस तरह के प्रतिबंध आदेश जारी किए गए थे.

वहीं, इम्तियाज ने कहा कि उन्होंने 2020 में प्रतिबंध के आदेश का जवाब दिया था और तब से उनकी याचिका पर कोई आधिकारिक जवाब नहीं मिला है.उन्होंने बताया, ‘अचानक नामांकन दाखिल करने के बाद, मुझे शहर छोड़ने और कासगंज जिले के एक पुलिस थाने में रिपोर्ट करने को कहा गया है.’

Uttar Pradesh Elections, Priyanka Gandhi Vadra, Uttar Pradesh Assembly Elections, CM Yogi Adityanath, सीएम योगी आदित्‍यनाथ, Akhilesh Yadav,अखिलेश यादव, BJP, Samajwadi Party, BSP, Congress, Mayawati, मायावती, यूपी चुनाव, कांग्रेस, अलीगढ़ न्‍यूज़, Congress, Aligarh News, Salman Imtiaz, सलमान इम्तियाज

कांग्रेस ने सलमान इम्तियाज को अलीगढ़ शहर से मैदान में उतारा है.

गौरतलब है कि इस महीने की शुरुआत में इम्तियाज ने भारत के राष्ट्रपति को एक ज्ञापन भेजकर हरिद्वार में दिए गए कथित घृणा भाषणों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. उन्होंने अलीगढ़ में प्रस्तावित ‘धर्म संसद’ का भी विरोध किया था जिसे बाद में स्थगित कर दिया गया. जबकि इस मामले पर कांग्रेस के जिलाध्यक्ष संतोष सिंह ने कहा कि पार्टी इस आदेश को अदालत में चुनौती देगी.

जानें उत्तर प्रदेश में कब-कब है वोटिंग
उत्तर प्रदेश में इस बार सात चरणों में मतदान होना है. इसकी शुरुआत 10 फरवरी को पश्चिमी यूपी के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान के साथ होगी. इसके बाद दूसरे चरण में राज्य की 55 सीटों पर मतदान होगा. वहीं, तीसरे चरण में 59, चौथे चरण में 60, पांचवें चरण में 60 सीटों, छठे चरण में 57 और सातवें चरण में 54 सीटों पर मतदान होगा. 10 फरवरी को पहले चरण के मतदान के बाद 14 फरवरी को दूसरे चरण, 20 फरवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे चरण, 27 फरवरी को पांचवें चरण, 3 मार्च को छठे चरण और 7 मार्च को सातवें चरण के लिए मतदान होगा. वहीं, यूपी चुनाव के नतीजे 10 मार्च को आएंगे.

पिछले विधानसभा चुनाव के ऐसे थे नतीजे
यूपी विधानसभा चुनाव 2017 में भाजपा ने 403 में से 325 सीटों पर जीत दर्ज की थी. सपा और कांग्रेस ने साथ मिलकर चुनाव लड़ा था. सपा ने 47 और कांग्रेस ने 7 सीटें ही जीती थीं. मायावती की बसपा 19 सीटें जीतने में कामयाब रही थी. वहीं, 4 सीटों पर अन्य का कब्जा हुआ था.

Tags: Aligarh news, Priyanka gandhi vadra, Uttar Pradesh Assembly Elections, Uttar Pradesh Elections

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर