होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Aligarh News : AMU में फिर गूंजी छात्रसंघ चुनाव की मांग, छात्रों ने दी प्रशासन को चुनौती

Aligarh News : AMU में फिर गूंजी छात्रसंघ चुनाव की मांग, छात्रों ने दी प्रशासन को चुनौती

चुनाव की मांग को लेकर धरने पर बैठे छात्र नेता.

चुनाव की मांग को लेकर धरने पर बैठे छात्र नेता.

ALIGARH: कड़ाके ठंड के बीच लीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (अमुवि) में माहौल गरमाया हुआ है, दरअसल यहां छात्रसंघ चुनाव कराने ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट- वसीम अहमद

अलीगढ़: कड़ाके ठंड के बीच अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (AMU) में माहौल गरमाया हुआ है. दरअसल यहां छात्रसंघ चुनाव कराने की मांग को लेकर छात्रों ने धरना शुरू कर दिया है. साथ ही चेतावनी भी दी है कि यदि मांगें नहीं मानी गई तो भूख हड़ताल शुरू कर देंगे.

दरअसल, 2022-23 शैक्षिक सत्र में छात्रसंघ चुनाव न होने को लेकर छात्रों ने सुलेमान हॉल में बैठक की और बाब-ए-सैयद पर पोस्टर के साथ इंतजामिया के खिलाफ प्रदर्शन किया. छात्रों ने कहा कि हम अपना अधिकार मांगते हैं. किसी से भीख नहीं मांगते हैं. छात्रों की आवाज न दबाई जाए.

आपके शहर से (अलीगढ़)

अलीगढ़
अलीगढ़

वहीं छात्र नेता हमजा जमशेद ने कहा कि छात्रसंघ चुनाव होना एएमयू में शिक्षा ले रहे 35 हजार विद्यार्थियों का अधिकार है. इसलिए उनके अधिकारों की आवाज बुलंद कर रहे हैं. इस संबंध में एएमयू इंतजामिया का कहना है कि पीएचडी में प्रवेश प्रक्रिया चल रही है. ऐसे में उनका पूरा ध्यान शैक्षिक सत्र को पटरी पर लाना है.

स्टूडेंट्स का समर्थन लेने में जुटा छात्रसंघ

छात्रसंघ चुनाव को लेकर एएमयू इंतजामिया शैक्षिक सत्र का हवाला दे रहा जबकि धरने पर बैठे छात्रों ने भूख हड़ताल की चेतावनी दे दी है. साथ ही साथ कला संकाय में छात्र-छात्राओं से समर्थन भी मांगा है. छात्र नेता विकास यादव ने कहा कि इतनी ठंड में छात्रों के धरने को देखकर इंतजामिया के लोगों के दिल नहीं पसीज रहे हैं. धरने में जाहिद खान, तस्नीम रजा, साद अमजद, मोहम्मद जुनैद, तलहा, अब्दुल हक, अनस, फरदीन, आरिफ त्यागी शामिल हैं.

वहीं गेस्ट हाउस नंबर-दो में छात्रों ने कुल सचिव से छात्रसंघ चुनाव को लेकर मुलाकात की थी. छात्रों ने चुनाव की तिथि घोषित करने की बात कही थी जिस पर कुलसचिव ने कहा, फिलहाल उनका पूरा जोर शैक्षिक सत्र को समय की पटरी पर लाना है. चुनाव मुश्किल काम है.

Tags: Aligarh news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें