होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अलीगढ़ में मंदिर के अंदर तोड़फोड़, कई मूर्तियों को किया खंडित, लोगों में आक्रोश

अलीगढ़ में मंदिर के अंदर तोड़फोड़, कई मूर्तियों को किया खंडित, लोगों में आक्रोश

फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंचकर मूर्तियों के करीब से नमूने भी लिए हैं.

फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंचकर मूर्तियों के करीब से नमूने भी लिए हैं.

Aligarh News: अराजक तत्वों ने माहौल बिगाड़ने के लिए मंदिर में मूर्ति खंडित करने के बाद एक पत्र भी छोड़ा है जिसमें लिखा ह ...अधिक पढ़ें

 अलीगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ में एक बड़ी खबर सामने आई है. यहां के मडराक थाना (Madrak police station) इलाके के एक गांव में स्थित प्राचीन मंदिर में असामाजिक तत्वों ने मंदिर में रखी मूर्तियों को खंडित (Broken Statue) कर दिया. जिसके बाद इलाके के लोगों ने एकत्रित होकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. पुलिस ने मामले में मुक़द्दमा पंजीकृत कर संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है.

वहीं, अराजक तत्वों ने माहौल बिगाड़ने के लिए  मंदिर में मूर्ति खंडित करने के बाद एक पत्र भी छोड़ा है जिसमें लिखा है कि जो अपनी रक्षा नहीं कर सकते वो आपकी रक्षा क्या करेंगे. सबका मालिक है. वहीं, पूरे मामले पर ग्रामीणों के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि 7 साल पहले इस मंदिर का जीवोद्धार हुआ था. लेकिन आज सुबह जब सूचना मिली के मंदिर में मूर्ति खंडित पड़ी हुई है. इसकी सूचना उनके द्वारा पुलिस को दे दी गई. पुलिस के द्वारा जांच पड़ताल की जा रही है. फॉरेंसिक टीम भी मौके पर पहुंचकर मूर्तियों के करीब से नमूने भी लिए हैं.

मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है
वहीं, प्रशासन के द्वारा सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से पुलिस बल तैनात कर दिया गया है. पूरे मामले पर उपजिलाधिकारी संजीव ओझा के द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया आराजक तत्वों के द्वारा माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई है. पूरे मामले को लेकर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है. जांच जारी है.

आपके शहर से (अलीगढ़)

अलीगढ़
अलीगढ़

लोगों में आक्रोश बना हुआ था
बता दें कि पिछले हफ्ते चंदौली के अलीनगर थाना क्षेत्र में अवांछनीय तत्वों द्वारा माहौल बिगाड़ने का मामला सामने आया था. सरस्वती पूजा (Saraswati Puja) के दौरान अवांछनीय तत्वों ने स्थापित मूर्ति को तोड़ दिया था. जिसके बाद एक पक्ष में खासा आक्रोश देखने को मिल रहा था. संप्रदाय विशेष के लोगों पर यह मूर्ति तोड़ने का आरोप लग रहा था. घटना से नाराज लोगों ने मुगलसराय-चंदौली जीटी रोड पर जाम लगा दिया था. जिसके बाद मौके पर पहुंचे स्थानीय एसडीएम और सीओ ने लोगों से बातचीत कर समझा-बुझाकर जाम समाप्त कराया था. लेकिन घटना को लेकर अभी भी लोगों में आक्रोश बना हुआ था.

Tags: UP police, Uttar Pradesh Assembly Election 2022, Uttar pradesh news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें