होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Aligarh News: श्रमदान दिवस में डीएम का दिखा अनोखा अंदाज, बनाईं जलेबी और कचौड़ियां, फिर...

Aligarh News: श्रमदान दिवस में डीएम का दिखा अनोखा अंदाज, बनाईं जलेबी और कचौड़ियां, फिर...

अलीगढ़ के डीएम इंद्र विक्रम सिंह का एक खास अंदाज इन दिनों शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है. कलेक्ट्रेट परिसर में श्रमदा ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट: वसीम अहमद

अलीगढ़: कलेक्ट्रेट परिसर में तब सब हैरान रह गए, जब डीएम इंद्र विक्रम सिंह को हलवाइयों के साथ उनका हाथ बंटाते देखा गया. आप भी ये सुनकर हतप्रभ हुए होंगे. तो चलिए आपको पूरा मामला बताते हैं. रविवार को छुट्टी के दिन डीएम ने परिसर के सभी कर्मचारियों को बुला लिया और सबसे कुछ न कुछ काम करने के लिए कहा. डीएम बोले, हफ्ते में एक दिन श्रमदान करने से शरीर चुस्त-दुरुस्त रहता है. इतना ही नहीं, डीएम खुद उनके साथ काम में जुटे गए.

डीएम ने एक दिन पहले ही कलेक्ट्रेट परिसर के सभी कर्मचारियों को स्वेच्छा से श्रमदान करने के लिए बुलाया था. रविवार को परिसर का वह हिस्सा, जहां पुरानी बिल्डिंग और पार्क के नवीनीकरण का कार्य चल रहा था, वहां डीएम इंद्रजीत ने फावड़े से मिट्टी डालनी शुरू कर दी. यह देख महिला कर्मचारियों ने भी फावड़ा उठा लिया और काम में जुट गईं. महिला कर्मचारियों का कहना था कि जब उन्होंने साहब को श्रमदान करते देखा तब वह खुद को रोक ना सकीं और वो भी पार्क में मिट्टी डालने लगीं.

आपके शहर से (अलीगढ़)

अलीगढ़
अलीगढ़

जब DM ने हाथ में बनाई जलेबियां, कचौरियां
डीएम के फावड़ा उठाने तक तो ठीक था, लेकिन जब उन्होंने करछी उठा ली तो वहां मौजूद सभी लोग आवाक रह गए. डीएम इंद्र विक्रम सिंह अपने सहज अंदाज और अनूठे व्यवहार के लिए जाने जाते हैं. श्रमदान के बाद उन्होंने एनआईसी बरामदे में स्वल्पाहार की व्यवस्था कराई थी. ऐसे में वहां काम कर हलवाइयों के साथ वह भी बैठ गए और जलेबियां व कचौड़ियां बनाने लगे. डीएम के इस अंदाज को देख हलवाई भी हैरान थे. यही नहीं, डीएम ने जलेबी और कचौड़ी तैयार कर सभी के बीच परोसा भी.

घर पर भी हों तो भी करें श्रमदान- डीएम
डीएम ने कहा कि स्वेच्छा से हर किसी को श्रमदान करना चाहिए. आप अगर किसी कार्यालय या कॉलोनी में हैं या अपने घर पर ही क्यों न हों, वहां पर हफ्ते में एक बार श्रमदान जरूर करें. इससे शरीर चुस्त-दुरुस्त बना रहता है. कलेक्ट्रेट परिसर में श्रमदान के इस मौके पर एडीएम प्रशासन डीपी पाल, एडीएम वित्त अमित कुमार भट्ट, नगर मजिस्ट्रेट चंद्रशेखर, अधिशासी अभियंता लोनिवि जीपी पुष्कर, सीवीओ, अधिकारी पीयूष कुमार सहित तमाम अफसर मौजूद रहे. वहीं कलेक्ट्रेट स्टाफ हेमंत जैन, पीयूष सारा भाई, संजीव चौहान, शुभम, राकेश गर्ग, लोकेश कुमार, गजेन्द्र सिंह, कल्पना शर्मा आदि ने भी श्रमदान किया.

Tags: Aligarh news, UP news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें