3 क्विंटल का ताला देखा है आपने? Video में देखिए अलीगढ़ के बुजुर्ग दंपति की कमाल की कारीगरी

अलीगढ़ के सत्यप्रकाश शर्मा और उनकी पत्नी ने 3 क्विंटल वजन वाला ताल बनाया है.

अलीगढ़ के सत्यप्रकाश शर्मा और उनकी पत्नी ने 3 क्विंटल वजन वाला ताल बनाया है.

Aligarh 3 Quintal Lock: अलीगढ़ में एक बुजुर्ग दंपति ने 60 किलो पीतल और लोहे से बनाया 10 लीवर वाला विशालकाय ताला. 3 क्विंटल वजन वाले इस ताले को देखकर लोग बुजुर्ग कारीगर की कर रहे तारीफ.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 17, 2021, 2:21 PM IST
  • Share this:
रिपोर्ट - रंजीत सिंह

अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ के ताले मशहूर हैं. यहां एक से बढ़कर एक ताले बनाए जाते हैं, जिनकी मजबूती की मिसाल दी जाती है. लेकिन इन दिनों यहां के रहने वाले एक बुजुर्ग दंपति का बनाए ताले की चर्चा चारों तरफ हो रही है. यह ताला सामान्य नहीं, बल्कि 3 क्विंटल का भारी-भरकम ताला है, जिसे इस बुजुर्ग दंपति ने बनाया है. घर में रहते हुए ही करीब 6 फुट लंबा और 3 क्विंटल वजन से अधिक के इस ताले की तस्वीरें देख आप हैरान रह जाएंगे. ताला बनाने वाले बुजुर्ग सत्यप्रकाश शर्मा और उनकी पत्नी रुक्मणी देवी की इस अद्भुत कारीगरी की सभी लोग तारीफ कर रहे हैं.

बचपन से ताले बनाने का कार्य कर रहे सत्यप्रकाश शर्मा ने पत्नी रुकमणी देवी के साथ परिवार के सहयोग से इस विशाल ताले का निर्माण किया है. बुजुर्ग दंपति का बनाया यह ताला जितना बेहतरीन है, उससे ज्यादा इसकी चाबी का आकार भी आपको हैरान कर देगा. अलीगढ़ के ज्वालापुरी स्थित गली नंबर 5 में रहने वाले सत्यप्रकाश शर्मा ने 3 क्विंटल का ताला बनाने के पीछे की कहानी बताई, वह भी रोचक है. उन्होंने बताया कि वे अपने पिता के साथ बचपन से ताले बनाने का काम कर रहे हैं. उनका सपना था कि एक विशालकाय ताला बनाया जाए.

Youtube Video

सत्यप्रकाश शर्मा ने बताया कि विशाल ताला बनाने में पैसे की कमी पड़ी तो उनकी पत्नी ने सहयोग किया. उनका कहना है कि तालों की वजह से अलीगढ़ का नाम देश-दुनिया में मशहूर है. इसलिए वे भी चाहते थे कि एक ऐसा ताला बनाया जाए, जिससे शहर की शोहरत में और चार चांद लगे. इसी सोच के साथ बुजुर्ग दंपति ने 6 फीट लंबा और 10 लीवर वाला यह 3 क्विंटल का ताला बनाया है.

बुजुर्ग दंपति के बनाए इस ताले की खासियत यह है कि यह इसके लिए बनाई गई विशेष चाबी से ही खुलेगा. सत्यप्रकाश शर्मा ने बताया कि इस ताले को बनाने में 60 किलो पीतल का इस्तेमाल किया गया है. पीतल के अलावा लोहा भी इस्तेमाल हुआ. ताले में 10 लीवर हैं, जो इसे और भी खास बनाते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज