अपना शहर चुनें

States

AMU छात्रनेता फ़रहान ज़ुबैरी की तत्काल गिरफ़्तारी का आदेश, फ्रांस के बहाने आतंकियों के समर्थन का आरोप

एएमयू छात्रनेता फरहान जुबैरी की गिरफ़्तारी के आदेश
एएमयू छात्रनेता फरहान जुबैरी की गिरफ़्तारी के आदेश

Aligarh News: वीडियो वायरल करने के बाद से ही फरहान जुबैरी फरार हैं. अब पुलिस ने उनके खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ़्तारी के लिए दबिश दे रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2020, 9:01 AM IST
  • Share this:
अलीगढ़/लखनऊ. फ्रांस (France) के बहाने इस्लामिक आतंकियों के समर्थकों पर सूबे की योगी सरकार सख्त हो गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के निर्देश के बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (AMU) के छात्रनेता फरहान जुबैरी (Farhan Zubairi) के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. मुख्यमंत्री ने जुबैरी की तत्काल गिरफ़्तारी के आदेश दिए हैं. जुबैरी ने फ़्रांस और ईसाइयों के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक बयान दिया था. अपने बयान में जुबैरी ने ईसाइयों के कत्लेआम को जायज ठहराया था. उसने अपने इस बयान का वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया था.

वीडियो वायरल करने के बाद से ही फरहान जुबैरी फरार है. अब पुलिस उनके खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर गिरफ़्तारी के लिए दबिश दे रही है. आरोप है कि फ़्रांस के राष्ट्रपति द्वारा इस्लामिक कट्टरपंथियों पर दिए बयान के बाद फरहान जुबैरी ने आपत्तिजनक और भड़काऊ बयान दिया था. इतना ही नहीं इसके बाद अपने ट्विटर हैंडल से इस वीडियो को शेयर भी किया था. फरहान जुबैरी ने कहा था कि पैगंबर के साथ बदसलूकी करने वाले का सिर कलम कर देंगे. अब प्रदेश की योगी सरकार ने इस्लामिक आतंकियों के समर्थकों के खिलाफ सख्त रुख अख्तियार किया है. इस सिलसिले में अलीगढ़ पुलिस ने उनके खिलाफ संगीन धाराओं में केस दर्ज किया है. इसके साथ ही जुबैरी की तत्काल गिरफ्तारी के आदेश भी दिए गए हैं. यूपी पुलिस फरहान की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है.






गौरतलब है कि फ़्रांस में हुए आतंकी हमले के बाद भारत में भी भड़काऊ बयान देने का सिलसिला जारी है. फरहान जुबैरी से पहले मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने ईसाइयों के कत्लेआम को जायज ठहराया था. फरहान जुबैरी कानपुर के विधनू के रहने वाले हैं. वह एएमयू स्टूडेंट यूनियन का पदाधिकारी रह चुके हैं. इस वक्त वह ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन से जुड़े हैं. फरहान ने एएमयू में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में भी सक्रिय भूमिका निभाई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज