अपना शहर चुनें

States

COVID-19: अलीगढ़ में कोरोना संक्रमण से हुई पहली मौत, मेडिकल कॉलेज के 47 चिकित्साकर्मी क्‍वारंटाइन

सीएमओ भानु प्रताप सिंह ने बताया कोरोना पॉजिटिव एक मरीज का देहांत हुआ है.
सीएमओ भानु प्रताप सिंह ने बताया कोरोना पॉजिटिव एक मरीज का देहांत हुआ है.

इसी मामले में जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के 47 चिकित्सा कर्मचारियों को क्‍वारंटाइन में भेजा गया है. इनमें 8 डॉक्टर शामिल हैं. वहीं जिलाधिकारी (DM) चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि अस्पताल से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा गया है कि कोरोना विशेष क्‍वारंटाइन सुविधा केन्द्र होने के बावजूद मरीज आपात वार्ड में कैसे आया?

  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ (Aligarh) में कोरोना वायरस (COVID-19) से पहली मौत (First Death) की खबर है. जानकारी के अनुसार कोतवाली थाना क्षेत्र के मोहल्ला उस्मानपाड़ा निवासी 55 वर्षीय मेराजुद्दीन की कोरोना वायरस से मौत हुई है. पता चला कि वह सोमवार से ही मेडिकल कॉलेज में वेंटीलेटर पर थे. अब प्रशासन की मौजूदगी में शव को परिजनों को सौंपने की तैयारी है. कोविड-19 के नियम-शर्तों के मुताबिक सुपुर्द-ए-खाक होगा.

मामले में सीएमओ भानु प्रताप सिंह ने बताया कि कल सोमवार को हमें दो कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे. इनमें से एक अहलदादपुर के 31 वर्षीय मरीज थे, वहीं दूसरे मेराजुद्दीन उस्मानपाड़ा, दिल्ली गेट के रहने वाले थे. ये 55 वर्षीय थे. इनके बारे में पता चला था कि ये जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अलीगढ़ में भर्ती थे और वेंटीलेटर पर थे. आज सूचना प्राप्त हुई है कि इनका देहांत हो गया है. इनकी डेडबॉडी हैंडओवर करने की तैयारी की जा रही है.

प्रदेश में अब तक 19 की मौत
यूपी में अब तक कोरोना से आगरा में 6, मेरठ और मुरादाबाद में तीन-तीन, अलीगढ़, बस्‍ती, लखनऊ, वाराणसी, बुलंदशहर, कानपुर और फिरोजाबाद एक-एक मरीज की मौत हो चुकी है. प्रदेश के प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में अब तक 1294 केस सामने आए हैं. जिनमें 1134 एक्टिव केस हैं. उपचार के बाद 1294 में से 140 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है. प्रदेश के 53 जनपद कोरोना से प्रभावित हैं.
उधर इसी मामले में जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के 47 चिकित्सा कर्मचारियों को क्‍वारंटाइन में भेजा गया है. इन 47 चिकित्सा कर्मचारियों में 8 डॉक्टर शामिल हैं.



लापरवाही बरतने के लिए प्रोफेसर डॉ अंजुम निलंबित

अस्पताल के मुख्य अधीक्षक प्रो. शाहिद सिद्दीकी ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण मामले के बारे में जानकारी सोमवार को मिली और मरीज को वेंटीलेटर पर रखा गय. मेडिकल कॉलेज के सहायक प्रोफेसर डॉ अंजुम को कथित लापरवाही के लिए निलंबित कर दिया गया है. उन्हें भी उनके परिवार सहित क्वारेंटाइन किया गया है.

अस्पताल को नोटिस, निजी जांच घर का लाइसेंस रद्द

वहीं जिलाधिकारी चंद्र भूषण सिंह ने बताया कि अस्पताल से इस बारे में स्पष्टीकरण मांगा गया है कि कोरोना विशेष क्वारेटाइन सुविधा केन्द्र होने के बावजूद मरीज आपात वार्ड में कैसे आया? उन्होंने बताया कि अस्पताल से यह भी पूछा गया है कि इस प्रकरण की जानकारी तत्काल जिला प्रशासन को क्यों नहीं दी गई? जिलाधिकारी ने बताया कि मरीज की एक्सरे रिपोर्ट के बारे में जिला प्रशासन को सूचना नहीं देने के लिए एक निजी डायग्नोस्टिक केन्द्र का लाइसेंस भी रद्द कर दिया गया है.

इनपुट: रंजीत सिंह

ये भी पढ़ें:

COVID-19 : मेडिकल कॉलेज के 47 चिकित्सा कर्मचारी क्‍वारंटाइन, DM ने कही ये बात

सीतापुर: लॉकडाउन के दौरान सिपाही ने सरेआम दरोगा को पीटा, वीडियो वायरल, FIR
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज