'ईमानदारी' का एक फोटो पोस्ट कर रातोंरात फेमस हुआ अलीगढ़ का ये शख्स, पढ़िये पूरा वाकया

आजाद शर्मा को सोशल मीडिया पर जमकर सराहना मिल रही है.
आजाद शर्मा को सोशल मीडिया पर जमकर सराहना मिल रही है.

आजाद के मुताबिक पर्स में सोने की अंगुठियां देखकर भी उसका ईमान नहीं डोला. जबकि कोरोना संकट (Corona Crisis) के इस दौर में ऐसा होना कोई बड़ी बात नहीं थी.

  • Share this:
अलीगढ़. सोशल मीडिया (Social Media) कब किसको मशहूर बना दे, कब इस पर क्या वायरल हो जाए, यह किसी को नहीं पता. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ (Aligarh) से सामने आया है. अलीगढ़ के रहने वाले आजाद रामेंद्र शर्मा को लॉकडाउन के दौरान एक महिला का पर्स सड़क पर पड़ा हुआ मिला. पर्स में 3 सोने की अंगूठी और कुछ रुपये थे. आजाद शर्मा ने महिला को ढूढ़कर उसका पर्स लौट दिया. और इस वाकये की एक तस्वीर अपने फेसबुक पर पोस्ट की. जिसके बाद उनकी चौतरफा वाहवाही शुरू हो गई है. आजाद के फेसबुक पोस्ट को अभी तक लाखों लोगों के कमेंट, लाइक, शेयर मिल चुके हैं.

ये है पूरा वाकया 

आजाद के मुताबिक बीते 6 जून को जब कोरोना वायरस संक्रमण के चलते देश में सम्पूर्ण लॉकडाउन था, उसी दिन वह अपनी ताई की दवा लेने के लिए अलीगढ़ से आवागढ़ जा रहे थे. रास्ते में एटा- आवागढ़ मार्ग पर आवागढ़ से लगभग 5 या 6 किलोमीटर पहले सड़क पर एक महिला का पर्स पड़ा हुआ मिला. जिसमें तीन सोने की अंगूठियां और पैसे थे. लेकिन पर्स में आजाद को ऐसा कोई कागजात नहीं मिला, जिससे उसको पर्स की मालकिन के बारे में पता लग सकता था. इसलिए आजाद वही पर रूक कर इंतजार करने लगा. बाद में आवागढ़ की तरफ दो किलो मीटर चलने पर उसे सड़क किनारे एक दंपति खड़ा हुआ दिखाई दिया. महिला की गोद बच्चा भी था. दम्पति बहुत परेशान दिख रहा था.



बतौर आजाद जब उसने दपंति को उसके परेशानी का कारण पूछा, तो उन्होंने बताया कि उसका पर्स गिर गया है. पर्स में क्या क्या था पूछने पर दपंति ने सारी चीजें बताईं, जो पर्स में मौजूद थीं. जिसके बाद आजाद ने उन्हें उनका पर्स वापस कर दिय. पर्स मिलते ही दपंत्ति की आंखों में से खुशी के आंसू निकलने लगे. कोरोना संक्रमण के खौफ के बावजूद दपंति ने आजाद को गले लगा लिया.
आजाद के मुताबिक पर्स में सोने की अंगुठियां देखकर भी उसका ईमान नहीं डोला. जबकि कोरोना संकट के इस दौर में ऐसा होना कोई बड़ी बात नहीं थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज