होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Ukraine, Russia War का असर:- अलीगढ़-यूक्रेन में फंसे एमबीबीएस छात्र के परिजनों ने जताई चिंता

Ukraine, Russia War का असर:- अलीगढ़-यूक्रेन में फंसे एमबीबीएस छात्र के परिजनों ने जताई चिंता

अलीगढ़:–यूक्रेन में फंसे छात्र साहिल खान के लिए उनके घर वाले चिंतित हैं.पिछले 8 दिनों से रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जा ...अधिक पढ़ें

    अलीगढ़:–यूक्रेन में फंसे छात्र साहिल खान के लिए उनके घर वाले चिंतित हैं.पिछले 8 दिनों से रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध जारी है. युद्ध में जो लोग फंसे हुए हैं उनका बहुत ही बुरा हाल है और उन लोगों के घरवालों की रातों की नींद उड़ी हुई है.सभी छात्र जो इस युद्ध की वजह से यूक्रेन में फंसे हुए हैं उनके लिए परिवार के लोग भगवान से प्रार्थना कर रहे हैं कि वह जल्द से जल्द अपने घर वापस आ जाएं.

    इसी बीच गाजियाबाद के निजामुद्दीन जो कि अलीगढ़ में पुलिस में इंस्पेक्टर के पद पर हैं.उनके बेटे साहिल खान के लिए परिवार वाले लगातार दुआ करने में लगे हुए हैं.उनका कहना है कि वह सभी दिन रात अल्लाह से उनके बेटे साहिल के घर वापस आने की दुआ कर रहे हैं.साहिल की मां का कहना है कि वह दिन में 5 बार नमाज अदा कर रही हैं और दुआ कर रही है की उनका बेटा अल्लाह ताला की दुआ से जल्द से जल्द अपने घर आ जाए.यूक्रेन में हालात काफी बिगड़े हुए हैं रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है. ऐसे में परिवार वालों की चिंता और भी बढ़ती जा रही है.

    साहिल के अब्बू निजामुद्दीन विधानसभा चुनाव में ड्यूटी पर तैनात हैं और घर में मां और बहन ऊपर वाले से लगातार दुआ कर रही हैं. साहिल के पिता निजामुद्दीन कीलगभग 3 साल पहले अलीगढ़ से सिविल लाइन थाने में पोस्टिंग हुई थी.उसके बाद वह अब रोरावर थाना में हैंऔर उनका परिवार सिविल लाइन के सरकारी आवास में रह रहा है.साहिल खान की मां ने बताया कि उनका बेटा यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है और लगभग 6 महीने पहले वह यहां अपने घर आया था कुछ समय के लिए.यहां रुकने के बाद वह फिर वापस चला गया और ऐसे में यूक्रेन और रूस के बीच जो युद्ध का माहौल है इस वजह से यूक्रेन के हालात काफी गंभीर है.वहां बच्चों के लिए काफी खतरा है.उनकी तरफ से अपने बच्चे को वापस लाने के लिए सरकार से कहा गया लेकिन अभी तक कोई जवाब नहीं मिला.ऐसे में उनके पास भगवान से प्रार्थना करने के सिवा कुछ नहीं है.बस वह यही चाहती हैं कि उनका बेटा जल्दी घर वापस आ जाए और जो भी बच्चे वहां फंसे हुए हैं वह जल्द से जल्द सही सलामत अपने घर अपने वतन वापस आ जाए.

    आपके शहर से (अलीगढ़)

    अलीगढ़
    अलीगढ़

    Tags: Aligarh news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें