अलीगढ़ : एएमयू में छात्रों का धरना जारी, ड्रोन कैमरे की निगरानी में पढ़ी नमाज

अलीगढ़ में अपनी मांगों पर अड़े एएमयू छात्रों का धरना दसवें दिन भी जारी है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 11, 2018, 9:48 PM IST
अलीगढ़ : एएमयू में छात्रों का धरना जारी, ड्रोन कैमरे की निगरानी में पढ़ी नमाज
फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 11, 2018, 9:48 PM IST
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) में धरना दे रहे छात्रों ने बाबा सैयद गेट पर नमाज पढ़ी. इस दौरान छात्रों की गतिविधियों को ड्रोन कैमरे से नजर रखी गई. वहीं दसवें दिन छात्र बॉबे सैयद गेट पर अपनी मांगों को लेकर डटे रहे. दूसरी तरफ सुरक्षा को लेकर फोर्स भी यूनिवर्सिटी सर्किल पर मौजूद रही.

एएमयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन ने बताया कि छात्रों की मांग पूरी नहीं हुई है. लाठी चार्ज करने वाले अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है और हिंदूवादी संगठनों पर भी नाममात्र की कार्रवाई हुई है. हिंदूवादी संगठनों के दो लोगों को गिरफ्तार कर केवल औपचारिकता जिला प्रशासन ने निभाई है और जो दो लोग गिरफ्तार हुए वह भी कोर्ट से जमानत पर छूट गए.

फैजुल ने कहा कि हम अपने लोकतांत्रिक मूल्यों को लेकर के विरोध कर रहे हैं. मांगे पूरी नहीं होने पर हम भूख हड़ताल करेंगे और दिल्ली में संसद भवन का घेराव करेंगे. उन्होंने कहा कि छात्रों पर जुल्म हुआ है और इनके आरोपियों को छोड़ा नहीं जाएगा.

फैजुल ने बताया कि हम जंतर-मंतर ही नहीं, संसद और प्रधानमंत्री आवास का घेराव करेंगे और दिल्ली में जाम लगा देंगे.

पुलिस पर राजनीतिक दबाव में काम करने का आरोप लगाते हुए छात्र नेता फैजल ने कहा कि हिंदू युवा वाहिनी पर बैन लगाने की मांग करेंगे क्योंकि उन्हीं की वजह से यह सब हो रहा है. एएमयू में आकर हिंदू युवा वाहिनी के लोग अटैक करते हैं और शहर में मिठाई बांटते हैं और इसके बाद मुस्लिम इलाकों से रैली निकालते हैं.

ड्रोन कैमरे से नमाज पर नजर रखने के बारे में फैजुल ने कहा कि एएमयू में कोई आतंकी नहीं है. हम नमाज में देश की अमन के लिए दुआ करते हैं. रोड पर नमाज पढ़ने के बारे में कहा कि यह फैसला मेजोरिटी में होता है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर