AMU विवाद: बोले दिनेश शर्मा, अप्रासंगिक है जिन्ना की तस्वीर का मुद्दा

दिनेश शर्मा ने कहा कि आज आवश्यकता है महंगाई से संघर्ष करने की और भ्रष्टाचार से लड़ने की, आवश्यकता है राष्ट्रभक्ति और देशभक्ति की

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 10, 2018, 11:10 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: May 10, 2018, 11:10 PM IST
जिन्ना की तस्वीर विवाद पर उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि यह विवाद अप्रासंगिक है. कुछ लोगों का मान-मर्दन करना आज प्रासंगिक नहीं है. उन्होंने कहा कि आज आवश्यकता है महंगाई से संघर्ष करने की और भ्रष्टाचार से लड़ने की, आवश्यकता है राष्ट्रभक्ति और देशभक्ति की.

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि इस प्रकार का प्रसंग जो भी लाता है वह उचित नहीं है. उन्होंने कहा कि देशभक्ति की भावना होना लोगों में अनिवार्य है, राष्ट्र के विरोध में किसी प्रकरण का विरोध नहीं कर रहा हूं. मेरा मानना है कि सबका साथ, सबका विकास के तहत सबको मिलकर काम करना चाहिए.

ढूंढने से भी नहीं मिलेगी पाक में गांधी और पटेल की प्रतिमा
दिनेश शर्मा ने कहा कि जिन्ना की तस्वीर एएमयू में लगाना अप्रासंगिक है. इस प्रकार का कृत्य कहीं भी होता है तो उसकी स्तुति नहीं की जा सकती. उन्होंने कहा कि आज देश को राष्ट्रभक्ति और विकास की जरूरत है. उप मुख्यमंत्री ने कहा कि पाकिस्तान में आप चले जाइए तो आपको हिंदुस्तान के महात्मा गांधी और सरदार पटेल की प्रतिमा ढूंढने से भी नहीं मिलेगी.

उन्होंन कहा कि अब लोगों में राष्ट्रवाद की भावना बढ़े, इसके लिए लोगों को काम करना है. यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री का सपना है. हालांकि तस्वीर हटनी चाहिए या नहीं हटनी चाहिए इस पर उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया.

पीड़ितों के परिजनों को दिए चेक
डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने अलीगढ़ में आंधी तूफान से मरे तीन लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए का चेक दिया. वहीं बदायूं में एक माह पहले हुई सड़क दुर्घटना में कलाई गांव के पांच मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए के चेक प्रदान किए. ये चेक उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने धनीपुर हवाई पट्टी पर आयोजित कार्यक्रम में दिए. इस कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री पीड़ित परिजनों से मिले और उन्हें ढांढस बंधाया. एक दिन पहले आए तूफान से इगलास तहसील में दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई थी.

करौली गांव के गोपाल सिंह, लोखटिया गांव के विजय सिंह व भरतपुर गांव की अनीता की तूफान के कारण मौत हो गई थी. उप मुख्यमंत्री ने दैवीय आपदा कोष से पीड़ित परिजनों को चार-चार लाख रुपए के चेक बांटे. डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि जहां-जहां आपदा आई है वहां पीड़ितों को राहत पहुंचाने का काम किया जा रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर