डाक रजिस्ट्री से किडनैपिंग की धमकी और फिरौती मांग रहा था वकील, ऐसा चढ़ा पुलिस के हत्थे
Aligarh News in Hindi

डाक रजिस्ट्री से किडनैपिंग की धमकी और फिरौती मांग रहा था वकील, ऐसा चढ़ा पुलिस के हत्थे
फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. (File Photo)

शिकायत के बाद पुलिस (UP Police) हरकत में आई और थाना गांधी पार्क पुलिस ने डाक रजिस्ट्री करने वाले पोस्ट ऑफिस के आसपास के सीसीटीवी फुटैज खंगाले.

  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के सामने किडनैपिंग (kidnapping) की धमकी का एक अजीबोगरीब केस सामने आया है. इस केस में किडनैपर ने डाक रजिस्ट्री के जरिए 5 लाख की फिरौती मांगी थी. पुलिस ने जब जांच की तो पता चला की इस किडनैपिंग की धमकी देने वाला एक वकील था. फिलहाल ये शातिर आरोपी वकील पुलिस की गिरफ्त में है. वकील पर आरोप है कि उसने फिरौती ना देने पर कारोबारी को बच्चों के अगवा करने और जान से मारने की धमकी दी थी.

अलीगढ़ पुलिस की तत्परता के चलते कारोबारी के बच्चों की जान बच गई. पुलिस ने शातिर एडवोकेट को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि थाना गांधी पार्क क्षेत्र में एटा चुंगी के रामनगर कॉलोनी के रहने वाले चेतन गुप्ता पुत्र को डाक रजिस्ट्री से एक पत्र मिला. पत्र के माध्यम कारोबारी से 5 लाख रुपये की फिरौती मांगी गई और फिरौती ना देने पर बच्चों को अगवाकर जान से मारने की धमकी दी गई. पीड़ित कारबारी ने तत्काल पुलिस को शिकायत की.

शिकायत के बाद पुलिस हरकत में आई और थाना गांधी पार्क पुलिस ने डाक रजिस्ट्री करने वाले पोस्ट ऑफिस के आसपास के सीसीटीवी फुटैज खंगाले. जिससे पुलिस महज 4 घंटे में ही मुख्य आरोपी तक पहुंच गई. पुलिस ने धमकी भरा डाक पत्र भेजने वाले आरोपी अधिवक्ता को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि उसके 2 अन्य साथियों की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है. मामले का खुलासा करते हुए एसपी सिटी अभिषेक कुमार ने बताया कि आरोपी अधिवक्ता कारोबारी चेतन गुप्ता के घर के पास ही रहता है, उसे गिरफ्तार कर लिया है, अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही है.
(प्रशांत कुमार की रिपोर्ट)
ये भी पढ़ें: 



दीवाली पर यूपी के 14 लाख कर्मचारियों को बोनस का तोहफा देने की तैयारी

अखिलेश बोले- हमारी सरकार बनी तो वापस लिए जाएंगे पत्रकारों पर दर्ज मुकदमे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज