Lockdown: पगार नहीं मिली तो डिप्रेशन में आकर अलीगढ़ के युवक ने की खुदकुशी
Aligarh News in Hindi

Lockdown: पगार नहीं मिली तो डिप्रेशन में आकर अलीगढ़ के युवक ने की खुदकुशी
युवक के घर मातम छाया

अलीगढ़ जिले में लॉकडाउन (Lockdown) के चलते डिप्रेशन (Dipression) में आकर युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली.

  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में लॉकडाउन (Lockdown) के चलते डिप्रेशन (Dipression)  में आकर युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. युवक द्वारा आत्महत्या किये जाने से परिजनों को शॉक लग गया. इस घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची थाना पुलिस ने युवक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

लॉकडाउन के कारण नहीं मिल पाई मजदूरी

अलीगढ़ जिले के थाना सिविल लाइन इलाके के आलमबाग निवासी एक 22 वर्षीय मोहम्मद हैदर नाम के युवक ने लॉकडाउन के चलते डिप्रेशन में आकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. परिजनों के मुताबिक हैदर अपनी मां के साथ घर में रहता था. बहनों की शादी हो चुकी है। फिलहाल रमजान के चलते बहन घूमने घर पर आई हुई थी. मृतक की बहन ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान कई बार अपनी मां से अपनी परेशानी बताता था. वह अक्सर कहा करता था कि अब हमें नौकरी के पैसे नहीं मिलेंगे. परिजनों के मुताबिक मोहम्मद हैदर अल्लाना मीट फैक्ट्री में काम करता था.



परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल
युवक की मौत के बाद बुजुर्ग मां और परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया है. अलीगढ़ के सिविल लाइन थाने के दारोगा चमन सिंह ने बताया कि सूचना मिली थी कि एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है. पुलिस वालों ने बताया कि युवक कुछ समय से डिप्रेशन में था इसलिए उसने आत्महत्या कर ली.

सुबह 10 बजे तक कमरे का नहीं खुला दरवाजा

मृतक युवक हैदर के मामा राशिद ने इस मामले में जानकारी देते हुए बताया कि लॉकडाउन के बाद से वह घर पर था और हमेशा इस बात के लिए चिंतिंत रहता था कि उसकी तनख्वाह नहीं मिल पाएगी. वह घर के ऊपर वाले कमरे में सोता था. सुबह 10 बजे तक जब वह कमरे से बाहर नहीं आया तो बहन ने कमरे का दरवाजा काफी देर पीटा लेकिन अंदर से कोई आवाज नहीं आई तब बराबर वाले घर से जाकर देखा तो पता चला कि वह फंदे से लटका हुआ झूल रहा था.

पूर्व विधायक ने ये कहा...

अलीगढ़ के समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक हाजी जमीरुल्लाह ने बताया कि वह डिप्रेशन में था. वह लॉकडाउन के चलते परेशान था. उसे तीन मई को लॉकडाउन खुलने की उम्मीद थी लेकिन 17 मई तक बढ़ जाने से वह हताश हो गया और उसने फांसी से लटकर जान दे दी.

ये भी पढ़ें: गोरखपुर के टेरीकोटा को मिला GI Tag, CM योगी ने कहा-अंतरराष्ट्रीय पहचान मिली

Lockdown: UP में नशे में धुत्त युवक ने अपने गांव के युवकों पर चलाई गोली, बचे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज