Home /News /uttar-pradesh /

muslim teacher officer tilak fundamentalists made indecent remarks nodelsp

मुस्लिम शिक्षिका ने अधिकारी का तिलक किया तो भड़क गए कट्टरपंथी, विरोध में लिखे अपशब्द, जानें मामला

मुस्लिम शिक्षिका ने विद्यालय पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी का तिलक लगाकर स्वागत किया तो कट्टरपंथियों ने विरोध शुरू कर दिया.

मुस्लिम शिक्षिका ने विद्यालय पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी का तिलक लगाकर स्वागत किया तो कट्टरपंथियों ने विरोध शुरू कर दिया.

Aligarh news: प्राइमरी स्कूल में तैनात मुस्लिम शिक्षिका ने विद्यालय पहुंचे खंड शिक्षा अधिकारी का तिलक लगाकर स्वागत किया तो कट्टरपंथियों ने इसके विरोध में बयानबाजी शुरू कर दी. कुछ उर्दू टीचरों ने सोशल मीडिया ग्रुप पर महिला के खिलाफ अभद्र टिप्पणी की. पीड़ित महिला टीचर ने बीएसए से इसकी शिकायत की, जिसक बाद जांच कमेटी बना दी गई है. साथ ही मुस्लिम महिला टीचर ने विरोधियों को नसीहत देकर कहा कि उनका धर्म बच्चों को शिक्षा देना है.

अधिक पढ़ें ...

अलीगढ़. प्राइमरी स्कूल में तैनात मुस्लिम शिक्षिका को खंड शिक्षा अधिकारी को तिलक करना भारी पड़ गया. मुस्लिम महिला का तिलक लगाना कुछ कट्टरपंथियों को रास नहीं आया. उर्दू टीचर ने शिक्षिका के लिए सोशल मीडिया ग्रुप पर अपशब्द लिख दिए. इस पर पीड़ित महिला ने बीएसए से की शिकायत की है, जिसके बाद बीएसए ने जांच के आदेश दिए हैं. मामला जवा ब्लॉक का बताया गया है.

जानकारी के अनुसार 15 जून को अलीगढ़ के जवा ब्लॉक में नए खंड शिक्षा अधिकारी के रूप में सतीश मिश्रा ने ज्वाइन किया था. शिक्षा विभाग के नियमों के अनुसार नए अधिकारी की जॉइनिंग के दौरान उनका हिंदू रीति रिवाज के अनुसार स्वागत किया गया. वरिष्ठ शिक्षिका होने के नाते हेड मास्टर ताहिरा ने बीईओ का तिलक लगाकर स्वागत किया था. जैसे ही तिलक करते हुए की फोटो कार्यालय से वहां पहुंची तो कुछ विभाग के मुस्लिम कट्टरपंथी शिक्षकों ने इसका विरोध करना शुरू कर दिया है. शिक्षिका को अपमानित भी सोशल मीडिया पर किया गया है.

कट्टरपंथी टीचरों को मुस्लिम शिक्षिका का जवाब- शिक्षा ही मेरा धर्म
फोटो पर उर्दू शिक्षकों के ग्रुप में शुरू हुई कमेंट बाजी से मुस्लिम शिक्षिका परेशान होती हुई नजर आई है. हद जब पार हो गई जब मुस्लिम शिक्षकों द्वारा महिला शिक्षक पर टिप्पणी करते हुए यह तक कह दिया कि इनका ईमान मर गया है. इस पर शिक्षिका ने कहा है कि मेरा धर्म बच्चों को शिक्षा देना है और हिंदू मुस्लिम एकता का संदेश देना है. आगे शिक्षिका ने कहा है कि उर्दू टीचरों को मेरा फोटो मिलने के बाद उन्होंने आपत्तिजनक टिप्पणी की है. कहा कि एक मुस्लिम शिक्षिका हिंदू अधिकारी का तिलक कर रही है, मेरे तिलक करने से मेरा धर्म परिवर्तन तो नहीं हुआ, मगर उनकी सोच जाहिर होती है. वह हिंदू मुस्लिम कर रहे हैं. ऐसे में जिस स्कूल में वह पढ़ा रहे होंगे. वहां बच्चों को कैसी शिक्षा दे रहे होंगे, यह उनकी सोच बताती है. इन तमाम बातों से आहत होकर मैंने बेसिक शिक्षा अधिकारी से शिकायत कर दी है.

उर्दू शिक्षक संघ के अध्यक्ष बोले- मैं इस्लाम को मानने वाला
उत्तर प्रदेश जूनियर हाई स्कूल उर्दू शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष मोहम्मद अहमद ने जानकारी देते हुए बताया है कि घटनाक्रम 6 जून का है. एक टीचर द्वारा ग्रुप पर खंड शिक्षा अधिकारी को तिलक करते हुए फोटो डाला गया था. उस फोटो पर मेरे द्वारा कमेंट लिखा गया जो मेरा संवैधानिक अधिकार है. मैं इस्लाम धर्म का मानने वाला हूं, जो भी मैंने लिखा है वह सही कहा है. इस्लाम धर्म में कोई भी व्यक्ति किसी को तिलक नहीं लगा सकता. कमेंट में मैंने लिखा है मुझे तिलक लगाना बुरा लग रहा है. आपको कैसा लग रहा है यह मेरी व्यक्तिगत राय है.

जांच रिपोर्ट के बाद होगी कार्रवाई
इस मामले पर जानकारी देते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी सत्येंद्र कुमार ढाका ने बताया है, यह मामला मेरे संज्ञान में कल शाम को आया है, मामले को बेहद गंभीरता से लेते हुए मेरे द्वारा दो सदस्यीय जांच कमेटी गठित कर दी गई है. 3 दिन में जांच कमेटी अपनी रिपोर्ट मुझे देगी. जांच रिपोर्ट आने के बाद शिक्षक के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Aligarh news, Muslim teacher, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर