अलीगढ़ CAA बवाल: पुलिस ने करीब 300 लोगों पर दर्ज किया FIR, हालात सामान्य

पुलिस ने करीब 300 लोगों पर दर्ज किया FIR

पुलिस ने करीब 300 लोगों पर दर्ज किया FIR

जिलाधिकारी चंद भूषण सिंह ने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की कुछ महिला छात्र इसके पीछे हैं. हम उनकी पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं. हम होने वाले नुकसान का पता लगा रहे हैं और यह दंगाइयों से वसूला जाएगा. स्थिति अब नियंत्रण में है.

  • Share this:
अलीगढ़. उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ (Aligarh) में रविवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध विरोध प्रदर्शन के दौरान हुए बवाल पर कार्रवाई शुरू हो गई है. पुलिस ने सोमवार को 40 नामजद समेत करीब 300 अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया है. पुलिस ने शहर कोतवाली, देहली गेट थाना और सिविल लाइन थाने में मुकदमा दर्ज किया है. दरअसल अलीगढ़ में बवाल के बाद इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया था. हालांकि, अब स्थिति सामान्य है. प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान पुलिस की जीप पर पथराव किया और इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में ले लिया गया है.

मामले में एसएसपी मुनीराज ने जानकारी देते हुए बताया कि अफवाह के बाद शुरू हुए बवाल को नियंत्रित कर लिया गया है. शहर में हालात सामान्य हो गए है, बलवाइयों को चिन्हित कर कार्यवाही की जा रही है.

डीएम का दावा- हिंसा के पीछे AMU की कुछ छात्राएं

जिलाधिकारी चंद भूषण सिंह ने बताया कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी की कुछ महिला छात्र इसके पीछे हैं. हम उनकी पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं. हम होने वाले नुकसान का पता लगा रहे हैं और यह दंगाइयों से वसूला जाएगा. स्थिति अब नियंत्रण में है.
CAA का हो रहा है विरोध प्रदर्शन

सीएए को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों का मानना है कि यह कानून भारत के संविधान के खिलाफ है. प्रदर्शनकारियों का मानना है कि ये भारत के संविधान की सेक्युलर संरचना पर हमला करता है. लोगों का मानना है कि इस कानून के दायरे में पड़ोसी देशों में पीड़ित मुसलमानों को भी शामिल करना चाहिए. उनका यह भी आरोप है कि जब देश में एनआरसी लागू होगा तो दस्तावेजों के अभाव में लाखों लोगों को नागरिकता साबित करने में मुश्किल आएगी या फिर डिटेंशन सेंटर में जाना पड़ेगा. फिलहाल मौके पर सिविल पुलिस, महिला पुलिस, पीएसी, आरएएफ और आरआरएफ तैनात है.

ये भी पढ़ें:



5 एकड़ जमीन पर मस्जिद निर्माण के लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड की बैठक शुरु, 2 सदस्यों ने किया बायकॉट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज