संपर्क फॉर समर्थनः विनोद सिंघल से मिले मनोज सिन्हा, गिनाई 4 वर्ष की उपलब्धियां

रेल राज्य मंत्री ने बताया कि जन चौपाल कार्यक्रम के तहत अब तक 16,537 ग्राम पंचायतों में सरकार के विभिन्न कार्यक्रमों को बताया गया है


Updated: June 13, 2018, 3:19 PM IST

Updated: June 13, 2018, 3:19 PM IST
अलीगढ़ जिले में संपर्क फॉर समर्थन अभियान के तहत बुधवार को रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा विनोद सिंघल से मुलाकात की. 2019 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर बीजेपी द्वारा चलाए जा रहे विशेष जनसंपर्क अभियान पर रेल राज्यमंत्री ने कहा कि संपर्क और संवाद पार्टी की पुरानी परंपरा है.

उन्होंने बताया कि बीजेपी केंद्र में 4 वर्ष पूरे होने पर मोदी सरकार की उपलब्धियों को समाज तक पहुंचाने के लिए प्रबुद्ध लोगों संपर्क साध रही है, क्योंकि प्रबुद्ध लोग ओपिनियन मेकर होते हैं और वो सरकार की नीतियों को जान सके. इस दौरान उन्होंने विपक्षी एकता पर सवाल पूछने पर कहा कि बीजेपी पर इसका कोई असर नहीं पड़ता है.

रेल राज्य मंत्री ने बताया कि जन चौपाल कार्यक्रम के तहत अब तक 16,537 ग्राम पंचायतों में सरकार के विभिन्न कार्यक्रमों को बताया गया है, इसके तहत दलित के घर का खाने का कोई कार्यक्रम नहीं था, लेकिन सामाजिक समरसता के तहत भाजपा दीनदयाल उपाध्याय के राजनीतिक दर्शन को आगे बढ़ा रही है. उन्होंने कहा कि जो समाज की मुख्य विकास की धारा से छूट गए हैं उनको आगे बढ़ाने का काम किया जा रहा है.

वहीं, पूर्व सीएम अखिलेश यादव द्वारा सरकारी मकान में तोड़फोड़ पर राज्यपाल द्वारा सीएम को पत्र लिखने पर उन्होंने कहा कि राज्यपाल सूबे के सबसे बड़े संवैधानिक पद पर आसीन है और अगर उन्होंने कुछ लिखा है तो सही लिखा है उस पर प्रतिक्रिया नहीं दी जा सकती.

वहीं, कैराना और नूरपुर में पार्टी की हार पर रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा कि उपचुनावों के परिणाम देश की राजनीति की दिशा तय नहीं करते, लेकिन उपचुनावों में पराजय पर पार्टी विचार-मंथन कर रही है.

उन्होंने अलीगढ़ स्टेशन के नाम परिवर्तन पर कहा कि यह एक विधिक प्रक्रिया है राज्य सरकार अगर संस्तुति करती है और रेलवे अनापत्ति प्रमाण पत्र के साथ गृह मंत्रालय को भेजता है, क्योंकि नाम बदलने का काम गृह मंत्रालय करता है, अगर सूबे की सरकार प्रस्ताव भेजेगी तो रेल मंत्रालय विचार करेगा.

(रिपोर्ट-आलोक सिंह, अलीगढ़)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर