जानिए क्यों निकली अलीगढ़ की सड़कों पर तलवारें और डंडे

इस पथ संचलन में शिवा जी की तस्वीर को आगे रख कर देशभक्ति के गीत पर स्वयं सेवक कदमताल कर रहे थे.आरएसएस कार्यकर्ता देश की एकता और अखंडता को मजबूत करने का संकल्प लेकर पथसंचलन किया.

Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: June 26, 2018, 2:34 PM IST
जानिए क्यों निकली अलीगढ़ की सड़कों पर तलवारें और डंडे
तलवारें लेकर मार्च करते कार्यकर्ताओं की फोटो
Alok singh | News18 Uttar Pradesh
Updated: June 26, 2018, 2:34 PM IST
अलीगढ़ में मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के बैनर तले हिन्दू साम्राज्य दिवस धूमधाम तरीके से मनाते हुए आरएसएस कार्यकर्ताओं ने शहर में जुलूस निकाला. जुलूस के दौरान स्वयंसेवक हाथों में तलवारें, लाठी और अन्य तरह के शस्त्रों को लेकर अनुशासन में चलते दिखे. इस दौरान शहर के विभिन्न जगहों पर स्वयं सेवियों पर पुष्पवर्षा की गई. इस पथ संचलन में शिवा जी की तस्वीर को आगे रख कर देशभक्ति के गीत पर स्वयं सेवक कदमताल कर रहे थे.आरएसएस कार्यकर्ता देश की एकता और अखंडता को मजबूत करने का संकल्प लेकर पथसंचलन किया.

बता दें कि शहर के दिल्ली गेट स्थित नगला मसानी गौशाला परिसर से पथसंचलन शुरू हुआ. इसके बाद शहर के कई मार्गों से होकर गुजरा. पथसंचलन में सबसे आगे भारत माता की झांकी चल रही थी, उसके पीछे संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ स्वंयसेवक चल रहे थे. इसके बाद स्वयंसेवकों का बैंड चल रहा था. पथ संचलन में स्वयंसेवक हाथों में तलवारें, लाठी और अन्य तरह के शस्त्रों को लेकर अनुशासन में रहते दिखे.

तलवारों के साथ प्रदर्शन करते आरएसएस कार्यकर्ता


पथसंचलन के संयोजक सत्य प्रकाश ने बताया कि शिवा जी के राज्याभिषेक पर्व पर हर वर्ष हिन्दू साम्राज्य दिवस मनाता है, उन्होंने बताया कि इसी दिन शिवा जी ने मुगलों को परास्त कर हिन्दूओं का स्वाभिमान जगाया था. उन्होंने कहा कि शिवाजी से प्रेरणा लेकर हर संकट को दूर करना है. सत्य प्रकाश ने कहा, शिवाजी ने मुगलों के आतंक को खत्म किया, और देश को एकजुट रखकर हिन्दुओं का उत्साहवर्धन किया. इस पंथसंचलन में बच्चों से लेकर बड़ों तक ने भाग लिया.

यह भी पढ़ें:

बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी बोले- राम विलास वेदांती के खिलाफ कार्रवाई करें सीएम योगी

आजमगढ़: हॉस्टल में MBBS की छात्रा ने फांसी लगाकर दी जान

जांच में नहीं मिले तन्वी सेठ के लखनऊ में रहने के साक्ष्य, रद्द हो सकता है पासपोर्ट

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर