होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /अलीगढ़: दूल्हे राजा बने प्रभु राम.. दुल्हन बनी मां जानकी

अलीगढ़: दूल्हे राजा बने प्रभु राम.. दुल्हन बनी मां जानकी

हिंदू पंचांग के अनुसार विवाह पंचमी मार्गशीर्ष के महीने मे शुक्ल पक्ष में पंचमी को भगवान श्री सीताराम का विवाह हर्षोल्ला ...अधिक पढ़ें

    अलीगढ़:-हिंदू पंचांग के अनुसार विवाह पंचमी मार्गशीर्ष के महीने मे शुक्ल पक्ष में पंचमी को भगवान श्री सीताराम का विवाह हर्षोल्लास के साथ मनाया गया.मंदिर में फूल बंगला मंडप सजा 5 पंडितों ने विवाह कराया चित्रकूट व अयोध्या से संत भी मां जानकी और श्री राम की विवाह में आए पौराणिक कथाओं के अनुसार विवाह पंचमी के दिन हुआ.भगवान श्री राम का विवाह, मां जानकी और श्री राम के विवाह को देखने के लिए दूर-दराज से श्रद्धालु आए.

    टीकाराम मंदिर में पंचमी पर श्री सीताराम विवाह महोत्सव का आयोजन हुआ.प्रभु श्री राम को नई पोशाके पहनाकर और फूलों से आकर्षक श्रृंगार कर श्रद्धालुओं ने दूल्हा बनाया जबकि माता सीता को दुल्हन की तरह सजाया मंदिर में सुबह से मंगल गीत गाए गए.श्रद्धालुओं ने नाच कर धूम मचाई सुबह से मंगल गीत गाए गए तो दोपहर में भंडारे का आयोजन हुआ शाम को मंदिर परिसर सतरंगी रोशनी से जगमग हो उठी. कोरोना काल के चलते दूसरी बार राम बारात मंदिर के बाहर नहीं निकाली गई.जबकि मंदिर के अंदर विभिन्न घरों में श्रद्धालुओं ने धूमधाम से दूल्हे सरकार का स्वागत किया.टीकाराम मंदिर के मुख्य पुजारी से बात की गई तो उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि यहां भगवान सीताराम जी का विवाह उत्सव मनाया जा रहा है.त्रेता युग में भगवान श्री राम का और भगवती श्री सीता जी का विवाह इसी तरह आज ही के दिन शुक्ल पक्ष पंचमी तिथि विवाह संपन्न हुआ था.

    आपके शहर से (अलीगढ़)

    अलीगढ़
    अलीगढ़

    Tags: Aligarh news

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें