मन्नान वानी मामले में AMU के दो कश्मीरी छात्रों का खत्म हुआ निलंबन

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी प्रशासन से निलंबित 2 कश्मीरी छात्रों का निलंबन वापस लिया गया है.

News18Hindi
Updated: October 17, 2018, 8:25 AM IST
News18Hindi
Updated: October 17, 2018, 8:25 AM IST
अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से निलंबित दो कश्मीरी छात्रों का प्रशासन ने निलंबन वापस लेने का फैसला किया है. मीडिया से बातचीत करते हुए अलीगढ़ के वीसी प्रो. तारिक मंसूर ने इस बात के संकेत दिए हैं. कश्मीर के तीन छात्रों पर आतंकी मन्नान वानी के लिए प्रार्थना आयोजित करने को लेकर देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था.

अलीगढ़ के वीसी प्रो. तारिक मंसूर  ने इस संबंध में बयान दिया है कि हमने निलंबन वापसी को कहा है लेकिन पुलिस कार्रवाई से हमारा सम्बंध नहीं है. एफआईआर हमने नहीं पुलिस ने कराई है. मीडियाकर्मियों ने जब यह सवाल किया कि एफआईआर किसने की है तो उन्होंने कहा कि एफआईआर यूनिवर्सिटी में बने चौकी इंचार्ज ने दर्ज की है.

उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी के किसी अधिकारी ने एफआईआर नहीं दर्ज की है. उन्होंने कहा कि अगर कोई दोषी नहीं है तो उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी. वीसी ने प्रॉक्टर से भी इस संबंध में बात कर ली है. उन्होंने कहा कि प्रशासन ने उनके खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा नहीं दर्ज कराया है. यह कार्रवाई पुलिस ने की है. दोषी न होने पर चार्ज नहीं लगाया जाएगा.

उन्होंने यह भी कहा कि बच्चे चाहे बंगाल के हों, बिहार के हों या यूपी के हों, हमारे लिए हर राज्य, धर्म और जाति का बच्चा एक बराबर है. उन्होंने कहा कि जो हमने इंक्वायरी की है, उसके मुताबिक कार्रवाई होगी.


(ये भी पढ़ें- आतंकी मन्नान वानी के सैनिक स्कूल से हिजबुल मुजाहिदीन तक के सफर की पूरी कहानी)


वहीं समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एएमयू के 2 कश्मीरी छात्रों का निलंबन वापस लिया गया है. बता दें कि कश्मीर के तीन छात्रों पर आतंकी मन्नान वानी के लिए प्रार्थना आयोजित करने को लेकर देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था.
Loading...


जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया था. मारे गए आतंकियों में से एक अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (एएमयू) के स्कॉलर से हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी बना मन्नान बशीर वानी भी था.

जैसे ही मन्नान के मारे जाने की खबर एएमयू पहुंची तो कुछ छात्रों ने उसे शहीद घोषित कर नमाज-ए-जनाजा पढ़ने की कोशिश की, जिस पर बवाल हो गया. इसके बाद अनुशासनहीनता में तीन छात्रों को निलंबित कर दिया गया. जबकि चार छात्रों को कारण बताओ नोटिस दिया गया है.

ये भी पढ़ें- 
आतंकी मन्नान वानी की मौत के बाद AMU में नमाज़, तीन स्टूडेंट सस्पेंड
First published: October 16, 2018, 7:23 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...