मिशनरी इंस्टीट्यूट हॉस्टल में तीन सगे भाईयों से अप्राकृतिक कृत्य का आरोप

डीएम व पुलिस को दिए एक लिखित शिकायत में पीड़ित बच्चों की मां ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. पीड़ित छात्र क्रमश- क्लास 2, 3 और 4 में पढ़ते हैं. आरोप है कि छात्रों को नशीला पदार्थ खिलाकर उनके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया गया

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 26, 2018, 2:42 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 26, 2018, 2:42 PM IST
अलीगढ़ जिले के एक मिशनरी इंस्टीट्यूट हॉस्टल में छात्रों के साथ अप्राकृतिक कृत्य करने का मामला सामने आया है. डीएम व पुलिस को दिए एक लिखित शिकायत में पीड़ित बच्चों की मां ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. पीड़ित छात्र क्रमशः क्लास 2, 3 और 4 में पढ़ते हैं. आरोप है कि छात्रों को नशीला पदार्थ खिलाकर उनके साथ अप्राकृतिक कृत्य किया गया.

रिपोर्ट के मुताबिक थाना बन्नादेवी इलाके के जीटी रोड स्थित इंग्राहम इंस्टीट्यूट के खिलाफ शिकायत के बाद अब पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. इंस्टीट्यूट के हॉस्टल में तीनों सगे भाईयों के साथ हुए अप्राकृतिक कृत्य के खिलाफ परिजनों ने स्कूल प्रशासन से भी शिकायत की थी, लेकिन स्कूल प्रशासन ने बिना कार्रवाई किए ही मामले को रफा-दफा कर दिया. इसके बाद थक-हारकर पीड़ित बच्चों की मां ने जिलाधिकारी व संबंधित थाने में मामले की लिखित शिकायत दी.

तहरीर के मुताबिक अप्राकृतिक कृत्य के शिकार तीनों भाई सारसौल निवासी है, जिनकी उम्र क्रमशः 12, 10 और 8 वर्ष है. पीड़ित बच्चे थाना बन्ना देवी इलाके के GT रोड पर स्थित मिशनरी इंग्राहम इंस्टीट्यूट स्कूल में 4, 3 और 2 क्लास में पढ़ते है और वहीं स्कूल छात्रावास में रहते हैं.

पीड़ित बच्चों के परिजनों का आरोप है कि 10वीं व 6वीं क्लास के छात्रों ने वार्डन चंद्र मसीह के साथ मिलकर तीनों बच्चों को नशीला पदार्थ खिलाया और उनके साथ अश्लील हरकत की और बाद में तीनों के साथ अप्राकृतिक कृत्य भी किया गया.

परिजनों के मुताबिक मामले की शिकायत पर स्कूल प्रबंधन ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई करने के बजाय तीनों पीड़ित छात्रों को पहले छात्रावास से निकलवा दिया और उसके बाद उन्हें स्कूल से भी बाहर कर दिया है और जब स्कूल की कार्रवाई का विरोध किया गया तो सुबूत मिटाने के उद्देश्य से उन्होंने आरोपी छात्रों को भी  स्कूल से निकाल दिया गया है.

पुलिस के मुताबिक परिजनों की तहरीर के बाद मामले में जांच करने की जा रही है. मामले को संज्ञान में लेते हुए इस संबंध में SP सिटी अतुल कुमार श्रीवास्तव ने कहा है कि दोषी पाए जाने पर आरोपियों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में कार्रवाई की जाएगी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...