यूपी बोर्ड: अलीगढ़ में परीक्षा केन्द्र के बाहर कॉपी लिखते हुए 58 लोग गिरफ्तार

ये घटना थाना अतरौली के तेबथू गांव में स्थित बौहरे किसान लाल इंटर कालेज का है. पूरा वाकया सामने आने पर डीआईओएस ने इस सेंटर की रसायन विज्ञान द्वितीय पेपर की परीक्षा निरस्त कर दी है.

Alok singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 23, 2018, 9:37 AM IST
Alok singh | ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 23, 2018, 9:37 AM IST
अलीगढ़ में परीक्षा केन्द्र के बाहर बोर्ड परीक्षा की कॉपी लिखते हुए 58 लोग गिरफ्तार किए गए. तीन हजार रुपए लेकर प्रति पेपर साल्व किया जा रहा था,परीक्षा खत्म होने के बाद बाहर लिखी कापियां रोल नम्बर के हिसाब से अटैच कर दी जाती थीं. इसके पीछे नकल माफियाओं का पूरा नेक्सेस रहता है.

ये घटना थाना अतरौली के तेबथू गांव में स्थित बौहरे किसान लाल इंटर कालेज का है. पूरा वाकया सामने आने पर डीआईओएस ने इस सेंटर की रसायन विज्ञान द्वितीय पेपर की परीक्षा निरस्त कर दी है. पुलिस के अनुसार मुखबिर से सामुहिक नकल कराए जाने की सूचना पहले मिल रही थी. लेकिन नकल माफिया पूरी सजगता से सब कुछ कर रहे थे.

वहीं गुरुवार को अतरौली के एसडीएम व क्षेत्राधिकारी ने हौसला करते हुए बौहरे किसान लाल इंटर कालेज के पास बने मकान में छापामार कार्रवाई की और मकान का दरवाजा तुडवाकर अंदर घुस गये. अंदर घुसने पर लोगों की भीड़ दिखी , जो इंटर की बोर्ड परीक्षा की कापियां लिख रहे थे.

पुलिस प्रशासन के अंदर पहुंचने पर हड़कंप मच गया. एसडीएम व क्षेत्राधिकारी के साथ हाथापाई कर कुछ लोग भागने लगे. वहीं मौके पर पुलिस ने भारी पुलिस फोर्स बुला लिया ,और करीब 58 लोगों को हिरासत में ले लिया. इनमें तीन लड़कियां भी साल्वर के रुप में बैठी थी. जिन्हें घर जाने दिया गया. बाकी 55 लोगों को थाना अतरौली लाया गया. इस तरह के नकल पकड़े जाने से हड़कम्प मच गया. अतरौली थाने पर लोगों की भीड़ लग गई.

स्कूल प्रबंधक पर तीन हजार रुपए लेकर नकल कराने की पूरी व्यवस्था की गई थी. डीआईओएस के अनुसार बोर्ड परीक्षा की पुरानी कापियों को प्रयोग किया जा रहा था. सेंटर की परीक्षा निरस्त कर दी गई है. डीआईओएस धर्मेद शर्मा ने बताया कि अतरौली क्षेत्र में साढे़ तीन सौ परीक्षा केन्द्र है और अलीगढ़ में करीब 60 हजार लोगों ने परीक्षा छोड़ दी है.

अतरौली नकल का पुराना गढ़ रहा है. इस बार सरकार की सख्ती के चलते लोगों मे भय है. सीसीटीवी कैमरे लगाने का असर हुआ है. डीआईओएस ने बताया कि पैसा मांग कर पेपर साल्व कराना व परीक्षा की शुचिता भंग करने के मामले में कार्रवाई की जा रही है.

वहीं परीक्षा केन्द्र से बाहर लिखी गई कापियां सेंटर की कापियों में कैसे अटैच की जा रही है. यह जांच का विषय है. इसका सरगना राम कुमार बताया जा रहा है, जो कि पुलिस कस्टडी में है. राम कुमार का ही काम है कि परीक्षार्थी सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में परीक्षा दे रहे हैं और कापियां बाहर लिखी जा रही है. ये संगठित रुप से नकल का गैंग काम कर रहा था.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...