• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • Aligarh: पीएम मोदी की रैली से लौटे युवक पर जानलेवा हमला, आहत परिवार ने लिखा 'ये मकान बिकाऊ है'

Aligarh: पीएम मोदी की रैली से लौटे युवक पर जानलेवा हमला, आहत परिवार ने लिखा 'ये मकान बिकाऊ है'

अलीगढ़ में एक समुदाय विशेष के उत्पीड़न से परेशान परिवार ने लिखा ये मकान बिकाऊ है

अलीगढ़ में एक समुदाय विशेष के उत्पीड़न से परेशान परिवार ने लिखा ये मकान बिकाऊ है

Aligarh Exodus: कस्बे के सोमना रोड स्थित मोहल्ला पथवारी के पीछे एक चौधरी परिवार का युवक पिछले दिनों 14 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी की रैली से लौटा था. इसके बाद एक समुदाय विशेष के युवकों द्वारा उसपर जानलेवा हमला करते हुए मारपीट की गई थी.

  • Share this:

    अलीगढ़. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अलीगढ़ (Aligarh) जिले की तहसील खैर इलाके में एक समुदाय विशेष के उत्पीड़न के कारण एक परिवार पलायन (Exodus) को मजबूर हो गया है. परिवार ने अपने मकान और दुकान पर बिकाऊ है का स्लोगन लिख दिया है. परिवार ने लिखा है कि यह मकान बिकाऊ है और अपनी दुकान पर लिखा है कि ‘मुस्लिमों के उत्पीड़न के कारण यह दुकान बंद हो रही’ है. दीवारों पर शुक्रवार को यह स्लोगन लिखा देख कस्बे में सनसनी फैल गई.

    दरअसल, कस्बे के सोमना रोड स्थित मोहल्ला पथवारी के पीछे एक चौधरी परिवार का युवक पिछले दिनों 14 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी की रैली से लौटा था. इसके बाद एक समुदाय विशेष के युवकों द्वारा उसपर जानलेवा हमला करते हुए मारपीट की गई थी. घटना के बाद पीड़ित की तहरीर पर दो नामजद  युवकों को हत्या के प्रयास में थाने से चालान कर दिया गया था. लेकिन मुकदमे में अन्य आरोपी की अभी तक गिरफ्तारी न होने के चलते व आरोपियों की ओर से बार-बार पीड़ित को धमकी मिलने के कारण परिवार ने अपने मकान पर मुस्लिमों के उत्पीड़न के कारण यह मकान बिकाऊ है लिख कर सनसनी फैला दी.

    पीएम मोदी की रैली को लेकर हुआ था विवाद

    बता दें कि 14 सितंबर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अलीगढ़ में डिफेंस कॉरिडोर व राजा महेंद्र प्रताप सिंह विश्वविद्यालय का शिलान्यास करने आए थे. सभा में सोमना रोड स्थित पथवारी मंदिर के पीछे निवासी विपिन चौधरी गया था. अगले दिन विपिन चौधरी अपनी नई बस्ती स्थित दुकान पर पहुंचा तभी दुकान के सामने स्थित एक समुदाय विशेष के युवकों ने पीएम मोदी की रैली को लेकर कमेंट किया. जिसे लेकर आपस में झगड़ा हो गया और समुदाय विशेष के युवकों के द्वारा विपिन चौधरी को अकेला देखते हुए जानलेवा हमला कर दिया गया. विपिन चौधरी को मरणावस्था में छोड़कर भाग गए. पीड़ित को तुरंत स्थानीय दुकानदारों के सहयोग से उपचार के लिए खैर स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया. सूचना पर परिवारी जन भी स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंच गए. इसके बाद विपिन चौधरी को अलीगढ़ स्थित एक निजी हॉस्पिटल में ले गए, वहां से उसे जेएन मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया.

    पीड़ित का आरोप परिवार को मिल रही धमकियां

    इस मामले में पीड़ित विपिन चौधरी के द्वारा तहरीर देते हुए कई युवकों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज करवाया गया था. जिस पर खैर कोतवाली मे तत्काल मुकदमा दर्ज हुआ. मुकदमे में नामजद दो आरोपियों को अगले दिन जेल भेज दिया गया. लेकिन अभी मुकदमें में अन्य नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल नहीं भेजा गया है. जबकि पीड़ित को बार-बार आरोपियों की ओर से जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं. पीड़ित विपिन चौधरी ने बताया कि मुकदमे में अभी कई लोग नामजद हैं जो कि फरार घूम रहे हैं. पुलिस उन्हें भी गिरफ्तार करें. हमें और हमारे परिवार को बार-बार उनकी तरफ से धमकी मिल रही है. योगी सरकार में इस प्रकार से वह हम लोगों को मारेंगे तो फिर हम कहां रहेंगे. इस वजह से अब हम अपने घर को बेचकर जा रहे हैं. एक समुदाय विशेष के सामने स्थित उस दूध की दुकान को बंद कर रहे हैं.

    (रिपोर्ट: रंजीत सिंह)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज