अलीगढ़: पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ कैशियर लूटकांड का मास्टरमाइंड देवू

पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ कैशियर लूटकांड का मास्टर माइंड देवू

पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार हुआ कैशियर लूटकांड का मास्टर माइंड देवू

अलीगढ़ (Aligarh) एसएसपी आकाश कुलहरि के मुताबिक कैशियर लूटकांड में देवू का नाम प्रकाश में आने के बाद इस पर 15 हजार का इनाम घोषित किया गया था, पुलिस उसकी तलाश में लगी थी. पकड़े गए बदमाश के इलाज के बाद उससे पूछताछ की जाएगी.

  • Share this:
अलीगढ़. अलीगढ़ (Aligarh) कैशियर लूटकांड के मास्टरमाइंड देवू को पुलिस ने मुठभेड़ (Encounter) के दौरान गुरुवार देर रात गिरफ्तार किया है. पैर में गोली लगने के कारण बदमाश पुलिस के हाथ आ गया. धनीपुर मंडी के पास दिनदहाड़े कैशियर को गोली मारकर 11.30 लाख रुपए की लूट को अंजाम दिया गया था. देवू पर 15 हजार का इनाम घोषित था. पुलिस कई दिनों से इसकी तलाश में जुटी थी.

बता दें कि बीते 10 फरवरी को फाइनेंस कंपनी के कैशियर कृष्णकांत उर्फ केके को गोली मारकर 11.30 लाख रुपए की लूट हुई थी. इसमें शामिल बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए गांधी पार्क थाना पुलिस सिंधौली बंबा के पास वाहन चेकिंग कर रही थी. तभी वहां एक बाइक पर दो से तीन लोग आते दिखे, तो पुलिस ने बाइक को रोकने का इशारा किया. बाइक सवार जीटी रोड रोड से ओजोन सिटी की ओर भागने लगे, पुलिस ने इनका पीछा कर ओजोन सिटी के पास ही घेराबंदी कर रोक लिया.

तमंचा सहित भारी मात्रा में कारतूस बरामद
तमंचा सहित भारी मात्रा में कारतूस बरामद


पुुलिस के रोकते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी बचाव में पुलिस की ओर से की गई फायरिंग में एक गोली एक बदमाश के दाएं पैर में लग गई. इससे वह घायल होकर वहीं गिर पड़ा, पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया उसकी पहचान देवेंद्र उर्फ देवू पुत्र रघुवीर निवासी गोरई इगलास के रूप में हुई. हालांकि इस बीच अंधेरे का फायदा उठाकर अन्य बदमाश भाग निकले. पुलिस घायल देवू को लेकर जिला अस्पताल पहुंची यहां उसका उपचार जारी है. आरोपी से 1 बाइक और लूट के 50 हजार रुपए व 1 तमंचा सहित भारी मात्रा में कारतूस बरामद किए हैं.
एसएसपी आकाश कुलहरि के मुताबिक कैशियर लूटकांड में देवू का नाम प्रकाश में आने के बाद इस पर 15 हजार का इनाम घोषित किया गया था, पुलिस उसकी तलाश में लगी थी. पकड़े गए बदमाश के इलाज के बाद उससे पूछताछ की जाएगी, जिससे गिरोह के अन्य सदस्य पकड़े जा सकें. उन्होंने बताया कि देवू इससे पहले मथुरा में हत्या के मामले में जेल जा चुका है. उसका पूरा आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है. पुलिस की शुरुआती पड़ताल में सामने आया है कि देवू ने अपने मौसेरे भाई व दोस्तों के साथ मिलकर गिरोह बनाया है. हालांकि पुलिस लूटकांड के खुलासे से पहले उसे भी गिरफ्तार करने के प्रयास में लगी है.

ये भी पढ़ें:

PM मोदी से मिले अयोध्या श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य, भूमि पूजन में शामिल होने का दिया न्योता
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज