अलीगढ़: वर्दी वाली बीबी ने आठ साल बाद गुपचुप तरीके से रचाई दूसरी शादी, कार्रवाई के लिए भटक रहा पति
Aligarh News in Hindi

अलीगढ़: वर्दी वाली बीबी ने आठ साल बाद गुपचुप तरीके से रचाई दूसरी शादी, कार्रवाई के लिए भटक रहा पति
सुरेंद्र की पत्नी के साथ फाइल फोटो

अलीगढ़ के अचलताल निवासी सुरेंद्र उपाध्याय ने 26 नवंबर 2011 को आर्य समाज मंदिर में हाथरस के गांव कुंवरपुर निवासी महिला सिपाही पूजा त्यागी से प्रेमविवाह किया था

  • Share this:
अलीगढ़. अलीगढ़ में एक पति ने डीजीपी ऑफिस में आत्महत्या करने का ऐलान किया है. इसकी वजह उसकी सिपाही पत्नी है, जिसने आठ साल बाद उसे छोड़कर दूसरी शादी रचा ली है. अब शख्स का कहना है कि अगर महिला सिपाही पर कार्रवाई नहीं होती है तो वह आत्महत्या कर लेगा. दरअसल महिला सिपाही फिरोजाबाद के थाना दक्षिण में तैनात है. महिला सिपाही पूजा त्यागी द्वारा 8 साल बाद पति को छोड़ दूसरे युवक से विवाह करने की खबर अलीगढ़ से लेकर फिरोजाबाद तक चर्चाओं में हैं.

2011 में हुई थी शादी

अलीगढ़ के अचलताल निवासी सुरेंद्र उपाध्याय ने 26 नवंबर 2011 को आर्य समाज मंदिर में हाथरस के गांव कुंवरपुर निवासी महिला सिपाही पूजा त्यागी से प्रेमविवाह किया था. पूजा ने फिर एक याचिका 13 जून 2014 को इलाहाबाद हाईकोर्ट में डालकर शादी की वैधता ले ली थी. 8 साल बाद अब वही महिला सिपाही ने सुरेंद्र को छोड़ दिया और शेखपुरा के युवक देव त्यागी से 2 फरवरी 19 को दूसरा विवाह कर लिया. कई महीनों तक दूसरी शादी के बाद भी पूजा सुरेंद्र से मिलती रही. जुलाई 2019 माह में जैसे ही सुरेंद्र को पता चला तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई. अब वह सिपाही बीबी पर कार्यवाई के लिए दर-दर भटक रहा है.



एसएसपी फिरोजाबाद को भी सुरेंद्र ने पत्नी द्वारा दूसरा विवाह करने पर कार्यवाई के लिए शिकायती प्रार्थना पत्र दिया, लेकिन कोई कार्यवाई नही हुई. पिछले 6 महीने से सिपाही बीबी द्वारा धोखा देने से न्याय को भटक रहे सुरेंद्र ने अब डीजीपी ऑफिस में आत्महत्या करने का ऐलान किया है. सुरेंद्र का कहना है कि एसएसपी फिरोजाबाद ने कोई कार्यवाई नहीं की है. जांच कर रहे सीओ को वह सभी साक्ष्य दे चुके हैं. सुरेंद्र का कहना है कि उसका जीवन बर्बाद हो चुका है. यदि डीजीपी ने 10 जनवरी तक कार्यवाई नही कराई तो वह आत्महत्या कर लेगा.
उधर मामले में एसएसपी फिरोजाबाद सचिन्द्र पटेल ने बताया कि पूरे मामले की जांच सीओ सिटी इन्दु प्रभा सिंह कर रही हैं, जांच के बाद अगर दोषी पाया गया तो विभागीय कार्यवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज