Home /News /uttar-pradesh /

69000 शिक्षक भर्ती: HC ने शाहजहांपुर की चयनित शिक्षामित्र को भारांक न देने के मामले में मांगा जवाब

69000 शिक्षक भर्ती: HC ने शाहजहांपुर की चयनित शिक्षामित्र को भारांक न देने के मामले में मांगा जवाब

file photo

file photo

चयनित शिक्षामित्र को 25 अंक का अधिभार नहीं देने पर इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने यूपी सरकार और बेसिक शिक्षा परिषद से जवाब तलब किया है. कोर्ट ने चार सप्ताह का समय दिया है.

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्राइमरी स्कूलों (Primary Schools) के लिए हुई 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती (69000 Assistant Teachers Recruitment) में चयनित शिक्षामित्र को 25 अंक का अधिभार नहीं देने पर इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने यूपी सरकार और बेसिक शिक्षा परिषद से जवाब तलब किया है. कोर्ट ने चार सप्ताह का समय दिया है. न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार मिश्र ने शाहजहांपुर (Shahjahanpur) की अनुभा वर्मा की याचिका पर ये निर्देश दिया है.

उठाए ये सवाल

याचिका के अनुसार अनुभा वर्मा ने 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती में ओबीसी कैटेगरी में आवेदन किया था. परिणाम जारी होने पर वह सफल घोषित हुई. उसे 93 अंक मिले और गुणांक 7.8 आया. यदि इसमें 25 अंक का भारांक जोड़ दिया जाए तो उसका गुणांक 85.5 हो जाएगा जबकि 85 अंक से कम वालों को भी जिला आवंटित किया गया है.

आवेदन में हुई गलती 

याची का कहना है कि उसने अपने ऑनलाइन आवेदन में बीटीसी पत्राचार के बजाए बीटीसी रेग्लुलर भर दिया था, जबकि उसकी योग्यता बीटीसी पत्राचार की है. इस वजह से उसे भारांक नहीं दिए गए. अधिवक्ता की दलील थी कि याची परीक्षा में सफल हुई है. आवेदन में गलती मानवीय भूल है. यदि याची ने सही भरा होता तो भी वह सफल ही है. इस‌ स्थिति में वह भारांक पाने की हकदार है. मामले में न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार मिश्र की बेंच ने यूपी सरकार और बेसिक शिक्षा परिषद से जवाब तलब किया है. कोर्ट ने चार सप्ताह का समय दिया है.

ये भी पढ़ें:

आज से 18 जून तक पूर्वांचल में आंधी-बारिश की संभावना

जिस पूर्व IAS के खिलाफ दर्ज की गई FIR, उनका अयोध्या राम मंदिर से रहा गहरा नाता

Tags: Allahabad high court, Government teacher job, Shahjahanpur उत्तर प्रदेश, UP news updates, Uttarpradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर