लाइव टीवी

सीएम योगी आदित्यनाथ को राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल करने की उठी मांग

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: November 12, 2019, 11:46 AM IST
सीएम योगी आदित्यनाथ को राम मंदिर ट्रस्ट में शामिल करने की उठी मांग
साधु-संतों ने राम मंदिर ट्रस्ट में सीएम योगी आदित्यनाथ को शामिल करने की मांग उठाई है. (फाइल फोटो)

महंत नरेन्द्र गिरी (Mahant Narendra Giri) ने योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) को सीएम होने के नाते नहीं, बल्कि गोरक्षनाथ पीठ के पीठाधीश्वर की हैसियत से राम मंदिर निर्माण के लिए प्रस्‍तावित ट्रस्ट (Ram Temple Trust) में शामिल किए जाने की मांग की है.

  • Share this:
प्रयागराज. अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का फैसला आने के बाद राम मंदिर (Ram Temple) के निर्माण के लिए केंद्र सरकार की ओर से गठित होने वाले ट्रस्ट (Trust) में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को शामिल करने की मांग संगम नगरी प्रयागराज (Prayagraj) से उठी है. साधु-संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी (Mahant Narendra Giri) ने गोरक्षनाथ पीठ (Gorakshnath Peeth) के पीठाधीश्वर महंत योगी आदित्यनाथ को ट्रस्ट में शामिल करने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि राम मंदिर आंदोलन में गोरक्षनाथ पीठ के महंत और सीएम योगी के गुरु ब्रह्मलीन अवैद्यनाथ महाराज का बहुत बड़ा योगदान रहा है. महंत नरेन्द्र गिरी ने योगी आदित्यनाथ को सीएम होने के नाते नहीं, बल्कि गोरक्षनाथ पीठ के पीठाधीश्वर की हैसियत से राम मंदिर के ट्रस्ट में शामिल किए जाने की मांग की है.

महंत नरेन्द्र गिरी ने राम मंदिर ट्रस्ट में सनानत धर्म के अलावा किसी दूसरे धर्मावलम्बी को सदस्य बनाए जाने पर भी कड़ा एतराज जताया है. उन्होंने कहा है कि सैकड़ों वर्षों के लंबे संघर्षों के बाद अयोध्या विवाद का सुप्रीम कोर्ट से हल निकला है. उन्होंने कहा है कि इस ट्रस्ट में मुस्लिम या किसी दूसरे धर्म के व्यक्ति को शामिल करना कतई उचित नहीं है. इससे भविष्य में फिर से विवाद की स्थिति आ सकती है.

ट्रस्ट में दूसरे धर्मों के लोगों को जोड़ने का विरोध

महंत नरेंद्र गिरी ने ट्रस्ट में चारों पीठों के शंकराचार्यों, चारों रामानंदाचार्यों के साथ ही अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के पदेन अध्यक्ष और महामंत्री को शामिल करने की मांग की है. इसके साथ ही राम मंदिर आंदोलन से जुड़े दूसरे साधु-संतों को भी ट्रस्ट के साथ जोड़े जाने की बात कही. महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा है कि इस ट्रस्ट में किसी दूसरे धर्म के व्यक्ति को जोड़ना गलत होगा और अखाड़ा परिषद ऐसे हर कदम का पुरजोर विरोध करेगा.

ये भी पढ़ें:

NSUI के विलाल अहमद ने DM को सौंपा 1100 रुपए का चेक, बोले- राम मंदिर में हमारे नाम की भी लगें चार ईंटें

जानिए पिछले 30 सालों से क्या है रामलला की दिनचर्या!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 11:27 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...