कैबिनेट मंत्री से अभद्रता मामले में एसओ को हाईकोर्ट से मिली राहत, निलम्बन आदेश रद्द

ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 7:36 PM IST
कैबिनेट मंत्री से अभद्रता मामले में एसओ को हाईकोर्ट से मिली राहत, निलम्बन आदेश रद्द
Photo: ETV/NEWS18
ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 7:36 PM IST
इलाहाबाद हाईकोर्ट से सूबे के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना से फोन पर हॉट टॉक करने वाले एसओ विधुना शिव प्रसाद दुबे को बड़ी राहत मिली है.

प्रभारी एसपी गौरव ग्रोवर के निलम्बन आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने निलम्बन आदेश रद्द कर दिया है.

हाईकोर्ट ने अपने आदेश में पुलिस विभाग को नियमानुसार विभागीय कार्रवाई करने की पूरी छूट दी है. मामले की सुनवाई करते हुए जस्टिस राम सूरत राम मौर्या की एकलपीठ ने ये आदेश पारित किया है.

बता दें कि यूपी के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने एसओ विधुना शिव प्रसाद दुबे को 22 अक्टूबर 2017 को फोन कर नामजद आरोपियों के खिलाफ दबिश न देने और कार्रवाई न करने का दबाव बनाया था.

इसे लेकर एसओ की मंत्री से बहस हो गई थी. इस मामले में एसओ के अभद्र व्यवहार की शिकायत मंत्री ने प्रभारी पुलिस अधीक्षक से की. एसएसपी के अवकाश पर रहने के चलते चार्ज पुलिस अधीक्षक पश्चिम गौरव ग्रोवर के पास था.

आरोप है कि उन्होंने बगैर विभागीय जांच के उसी दिन एसओ को निलम्बित कर दिया. निलम्बन आदेश का उन्होंने आईजी या डीआईजी से अप्रूवल भी नहीं लिया था. जबकि एसएसपी की ओर दिए गए चार्ज में साफ था कि कि वे केवल कानून व्यवस्था संभालेंगे. लेकिन कोई नीतिगत निर्णय नहीं लेंगे.

प्रभारी एसपी ने निलम्बन आदेश में कैबिनेट मंत्री के साथ एसओ के अभद्र व्यवहार और अमार्यादित आचरण करने का भी जिक्र किया था. इन्हीं बिन्दुओं को लेकर याची शिव प्रसाद दुबे ने निलम्बन आदेश को हाईकोर्ट में चुनौती दी थी. जिस पर सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने याचिका मंजूर करते हुए निलम्बन आदेश रद्द करने का आदेश पारित किया है.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर