लाइव टीवी

COVID-19: हाईकोर्ट ने बढ़ाई 28 मार्च तक छुट्टियां, बेहद जरुरी मामलों पर होगी सुनवाई
Allahabad News in Hindi

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: March 24, 2020, 11:11 AM IST
COVID-19: हाईकोर्ट ने बढ़ाई 28 मार्च तक छुट्टियां, बेहद जरुरी मामलों पर होगी सुनवाई
हाईकोर्ट ने बढ़ाई 28 मार्च तक छुट्टियां

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक अधिकारी में कोरोना वायरस के लक्षण मिलने के बाद पहली बार 19 मार्च से 21 मार्च तक तीन दिनों के लिए हाईकोर्ट पूरी तरह बंद कर दिया गया था.

  • Share this:
प्रयागराज. कोरोना वायरस (Coronavirus) को थर्ड स्टेज में पहुंचने से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश के 16 जिलों को लॉकडाउन कर दिया है. इसी कड़ी इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) की प्रधान पीठ और लखनऊ बेंच में छुट्टियां एक बार फिर से बढ़ा दी गई हैं. नये आदेश के तहत अब 28 मार्च तक हाईकोर्ट की प्रधानपीठ और लखनऊ बेंच में काम काज बंद रहेगा. इस दौरान बेहद जरुरी मामले ही सुने जाएंगे. इससे पहले हाईकोर्ट ने 23 मार्च से लेकर 25 मार्च तक अवकाश घोषित किया था, जिसे बढ़ाते हुए अब 28 मार्च कर दिया गया है.

कोरोना वायरस के खतरे से बचाव एवं राहत उपायों को देखते हुए यह फैसला किया गया है. इलाहाबाद हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार प्रोटोकॉल आशीष कुमार श्रीवास्तव की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि, अति आवश्यक मामलों के लिए सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच मुकदमा दायर कर सुनवाई के लिए अनुरोध करना होगा. नियमित रूप से मुकदमे दाखिल नहीं होंगे. कुछ अधिकारियों को नामित किया गया है जो, अति आवश्यक मुकदमों की सुनवाई के अनुरोध पर व्यवस्था करेंगे.

इन अधिकारियों में हाईकोर्ट के संयुक्त निबंधक( न्यायिक (लिस्टिंग) इलाहाबाद, मोबाइल फोन नंबर 95326 93559 एवं संयुक्त निबंधक (न्यायिक )(अपराधिक) इलाहाबाद, मोबाइल नंबर 9473 83 88 27 एवं निबंधक (न्यायिक)( लिस्टिंग) लखनऊ, मोबाइल नंबर 94 1502 81 18 शामिल हैं. इनकी अनुपस्थिति में निबंधक न्यायिक स्टेशनरी मोबाइल फोन 9412711100 के नंबर पर फोन किया जा सकता है. यह अधिकारी संबंधित न्याय पीठ से अनुमति लेकर सूचित करेंगे. 26 एवं 27 मार्च को सुने जाने वाले मुकदमे अब 9 एवं 10 अप्रैल को सुने जाएंगे. 26, 27 और 28 मार्च को हाईकोर्ट में अवकाश घोषित कर दिया गया है.

गौरतलब है कि इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक अधिकारी में कोरोना वायरस के लक्षण मिलने के बाद पहली बार 19 मार्च से 21 मार्च तक तीन दिनों के लिए हाईकोर्ट पूरी तरह बंद कर दिया गया था. हाईकोर्ट खुलने पर किसी तरह का कोई संक्रमण न हो, इसके लिए पूरे कैम्पस को सेनेटाइज़ भी कराया जा रहा है. लेकिन कोरोना के फैलते संक्रमण को रोकने के लिए पीएम मोदी की अपील और लगातार आ रहे नये मामलों को देखते हुए 21 मार्च को हाईकोर्ट में तीन दिनों की छुट्टियां बढ़ाई गईं.



जबकि अब दूसरी बार छुट्टियां बढ़ा दी गईं हैं. हांलाकि इस दौरान प्रतिदिन स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम के कर्मचारी हाईकोर्ट को सेनेटाइज करने के काम में लगे हैं. चीफ जस्टिस द्वारा जस्टिस बीके नारायण की अगुवाई में गठित कमेटी अब 28 मार्च तक बैठक कर हालात की फिर से समीक्षा करेगी और आगे कोर्ट खुलने के बारे में कोई फैसला लेगी.

ये भी पढे़ं:

UP: डिप्टी CM केशव मौर्य ने COVID-19 से लड़ाई के लिए दिया एक करोड़ रुपया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 11:06 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर