Lockdown: अर्जेंट केसों की सुनवाई के लिए आवेदन के तरीके में HC ने किया बदलाव
Allahabad News in Hindi

Lockdown: अर्जेंट केसों की सुनवाई के लिए आवेदन के तरीके में HC ने किया बदलाव
पीठ ने राज्य सरकार को नियुक्ति की प्रक्रिया तीन महीने के भीतर पूरी करने के निर्देश दिए.

हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार प्रोटोकॉल आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि 23 अप्रैल 10 बजे से 24 अप्रैल शाम 6 बजे तक भेजी गई अर्जियां तकनीकी खामी के कारण नहीं प्राप्त हो सकी हैं.

  • Share this:
प्रयागराज. वैश्विक महामारी (Pandemic) कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के फैलाव से बचाव के लिए पूरे देश में लॉकडाउन (Lockdown) जारी है. इसी क्रम में इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) ने अतिआवश्यक मुकदमों की सुनवाई के लिए आवेदन करने की प्रणाली में बदलाव किया है. शुक्रवार शाम संयुक्त निबंधक (न्यायिक) कंप्यूटर ने विज्ञप्ति जारी कर इस आशय की सूचना दी है. 1 मई को जारी अधिसूचना के अनुसार 3 मई से हाईकोर्ट की वेबसाइट पर मुकदमों की शीघ्र सुनवाई की प्रार्थना ऑनलाइन करनी होगी. जानकारी के मुताबिक 23 अप्रैल से चल रही साइट अगले एक हफ्ते तक ही जारी रहेगी. अब http://www.allahabadhighcourt.in पर लॉगइन करके तत्काल सुनवाई की अर्जी दी जायेगी. इस सुविधा का लाभ अधिवक्ता एवं स्वयं बहस करने वाले वादकारी दोनों ही उठा सकेंगे.

23 अप्रैल का लिंक 10 मई तक ही कारगर

हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार प्रोटोकॉल आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि 23 अप्रैल 10 बजे से 24 अप्रैल शाम 6 बजे तक भेजी गई अर्जियां तकनीकी खामी के कारण नहीं प्राप्त हो सकी हैं. इसलिए ऐसे सभी लोगों से दोबारा प्रार्थना पत्र दाखिल करने का अनुरोध किया गया है. तत्काल सुनवाई की अर्जी दाखिल करने पर लिखित बहस स्वीकार नहीं की जायेगी. 24 अप्रैल को जो लोग लिखित बहस नहीं भेज सके हैं वे अगली सुनवाई की तिथि पर वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से बहस कर सकेंगे. 23 अप्रैल को जारी लिंक 10 मई तक ही कार्य करेगा. इसके बाद केवल हाईकोर्ट की वेबसाइट पर ही मुकदमों की तत्काल सुनवाई की अर्जी दी जायेगी.



यह भी बताया गया है कि वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग गूगल क्रोम ब्राउजर पर बेहतर तरीके से काम कर रहा है. इसके जरिए वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के लिंक पर बहस की जा सकती है.
यूपी में अबतक 2281 केस, 41 लोगों की कोरोना से मौत

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में अबतक 2281 केस सामने आए हैं. जिनमें 1685 एक्टिव केस हैं. उपचार के बाद 2281 में से 555 मरीज पूरी तरह स्वस्थ हो गए हैं और उन्हें घर भेज दिया गया है. हालांकि कोरोना के कारण प्रदेश में 41 लोगों की मौत हुई है. प्रदेश के 63 जनपद कोरोना से प्रभावित हुए हैं.

इनपुट- सर्वेश दूबे

ये भी पढ़ें:

COVID-19: योगी आदित्यनाथ ने दिए UP की सीमाओं को पूरी तरह सील करने के निर्देश
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज