न्यायिक कार्य से आज विरत रहेंगे हाईकोर्ट के अधिवक्ता, ये रही वजह

इसके लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया. बार के सदस्यों के रुख को देखते हुए एसोसिएशन आज न्यायिक कार्य से विरत रहने का फैसला लिया है. बता दें कि वकील एजुकेशनल ट्रिब्यूनल को लखनऊ में स्थापित करने का विरोध कर रहे हैं.

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 16, 2019, 10:48 AM IST
न्यायिक कार्य से आज विरत रहेंगे हाईकोर्ट के अधिवक्ता, ये रही वजह
न्यायिक कार्य से आज विरत रहेंगे हाईकोर्ट के अधिवक्ता
Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 16, 2019, 10:48 AM IST
इलाहाबाद हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के अधिवक्ता शुक्रवार को न्यायिक कार्य से विरत रहेंगे. हाईकोर्ट बार के महासचिव जेबी सिंह ने बताया कि अवध बार एसोसिएशन ने शिक्षा सेवा अधिकरण प्रयागराज में स्थापित करने की मांग को लेकर न्यायिक कार्य से विरत रहने का प्रस्ताव पास किया है. उन्होंने कहा कि बार एसोसिएशन की गवर्निंग काउंसिल ने मुख्यमंत्री से मिलने के बाद अगली रणनीति तय करने का निर्णय लिया था. लेकिन अवध बार के रुख को देखते हुए हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों का एक वर्ग आंदोलन स्थगित करने से नाराज था.

इसके लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया. बार के सदस्यों के रुख को देखते हुए एसोसिएशन आज न्यायिक कार्य से विरत रहने का फैसला लिया है. बता दें कि  वकील एजुकेशनल ट्रिब्यूनल को लखनऊ में स्थापित करने का विरोध कर रहे हैं.

बार का मानना है कि हाईकोर्ट की प्रधानपीठ प्रयागराज में है, सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आधार पर सभी अधिकरण प्रयागराज में ही स्थापित किए जाने चाहिए. वकीलों की हड़ताल के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इतजाम किए गए है.

ये भी पढ़ें:

गाजियाबाद: पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने से घायल हुआ कुख्यात बदमाश

प्रियंका गांधी बोलीं- पहलू खान पर लोअर कोर्ट का फैसला चौंकाने देने वाला

आज़म खान के हमसफ़र रिसॉर्ट पर चल सकता है प्रशासन का बुलडोज़र
First published: August 16, 2019, 10:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...