लाइव टीवी

चिन्मयानंद रंगदारी मामला: पीड़िता को नहीं मिली राहत, HC से जमानत निरस्त

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 22, 2019, 3:02 PM IST
चिन्मयानंद रंगदारी मामला: पीड़िता को नहीं मिली राहत, HC से जमानत निरस्त
चिन्मयानंद रंगदारी मामला: पीड़िता को नहीं मिली राहत (फाइल फोटो)

पीड़िता की ओर से स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए गए थे. चिन्मयानंद के अधिवक्ता ने पांच करोड़ रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें पीड़िता समेत चार आरोपियों को विशेष जांच दल (एसआईटी) ने जेल भेज दिया है

  • Share this:
प्रयागराज. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मंगलवार को पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद (Chinmayanand) से रंगदारी मांगने के मामले में जेल में बंद रेप पीड़ित लॉ छात्रा की जमानत नहीं दी. पीड़िता के वकील ने कोर्ट मे दलील दी कि उसके खिलाफ कोई साक्ष्य नहींं मिला है, बल्कि उसे फंसाया गया है. इस मामले में हाईकोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा है. मामले में 6 नवंबर को अगली सुनवाई होगी. जस्टिस सिद्धार्थ की एकल पीठ ने जेल में बंद रेप पीड़ित लॉ छात्रा की जमानत अर्जी निरस्त (रद्द) कर दी.

चिन्मयानंद और पीड़ित छात्रा दोनों की जमानत अर्जी हो चुकी है खारिज

बता दें कि इसे पहले पीड़ित छात्रा की जमानत अर्जी को पिछले दिनों जिला एवं सत्र न्यायालय ने खारिज कर दिया था. सरकारी वकील अनुज कुमार सिंह ने बताया कि सोमवार को जिला एवं सत्र न्यायालय में आरोपी चिन्मयानंद की जमानत की अर्जी पर सुनवाई हुई जिसे जिला जज रामबाबू शर्मा ने सुना. इसके अलावा चिन्मयानंद से रंगदारी मांगने की आरोपी पीड़िता छात्रा की भी जमानत याचिका पर सुनवाई की गई. अनुज कुमार ने बताया कि चिन्मयानंद और रंगदारी मांगने की आरोपी पीड़ित छात्रा दोनों की जमानत याचिका को जिला सत्र न्यायालय ने निरस्त (रद्द) कर दिया है.

छात्रा ने यौन शोषण का लगाया था आरोप

पत्र में चिन्मयानंद ने आरोपी की मां को भी अपराधिक एवं असामाजिक गतिविधियों में संलिप्त बताया है. साथ ही पीड़िता के पिता पर दो मुकदमे का विवरण तथा संजय पर थाना तिलहर में दर्ज हत्या के प्रयास समेत दो मुकदमों का विवरण दिया है. उन्होंने आरोपियों पर गैंगेस्टर एक्ट लगाने की मांग की है. गौरतलब है कि चिन्मयानंद पर उन्हीं के कॉलेज में पढ़ने वाली एक छात्रा ने वीडियो वायरल करके यौन शोषण का आरोप लगाया था. उसके बाद पीड़िता लापता हो गई थी.

पीड़िता की ओर से स्वामी चिन्मयानंद पर गंभीर आरोप लगाए गए थे. चिन्मयानंद के अधिवक्ता ने पांच करोड़ रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज कराया था, जिसमें पीड़िता समेत चार आरोपियों को विशेष जांच दल (एसआईटी) ने जेल भेज दिया है. यौन शोषण के मामले में फिलहाल चिन्मयानंद भी जेल में बंद हैं.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 3:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...