Home /News /uttar-pradesh /

सिपाही भर्ती 2015: पुलिस भर्ती बोर्ड ने नहीं दिया अभ्यर्थी का रिकॉर्ड तो HC हुआ सख्त

सिपाही भर्ती 2015: पुलिस भर्ती बोर्ड ने नहीं दिया अभ्यर्थी का रिकॉर्ड तो HC हुआ सख्त

इलाहाबाद हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

इलाहाबाद हाईकोर्ट (फाइल फोटो)

यह आदेश जस्टिस संगीता चंद्रा ने अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थी नीरज कुमार गोंड की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया.

    इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सोमवार को यूपी पुलिस में ​2015 की सिपाही भर्ती के एक मामले में याचिका पर सुनवाई करते हुए पुलिस भर्ती बोर्ड के अपर सचिव को तलब कर लिया है. कोर्ट ने अपर सचिव को रिकॉर्ड सहित 16 नवंबर को पेश होने का कहा है. यह आदेश जस्टिस संगीता चंद्रा ने अनुसूचित जनजाति वर्ग के अभ्यर्थी नीरज कुमार गोंड की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया.

    याचिका में कहा गया है कि याची ने अनुसूचित जनजाति अभ्यर्थी के रूप में सिपाही भर्ती के लिए आवेदन किया था. उसने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा के अंक और शारीरिक दक्षता परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर अनुसूचित जनजाति के लिए घेषित कट आॅफ से ज्यादा अंक अर्जित किए थे. याची ने कहा कि कट आॅफ अंक 376.63 है, ज​बकि उसने 381.46 अंक अर्जित किए थे. लेकिन इसके बाद भी उसका नाम चयनित सूची में नहीं आया.

    इसके खिलाफ उसने कोर्ट में याचिका दाखिल की तो 28 सितंबर को न्यायलय ने मामले में भर्ती बोर्ड से याची के गायब रिकॉर्ड के बारे में जानकारी मांगी थी. कई मौके देने के बावजूद भर्ती बोर्ड ने कोर्ट को जानकारी नहीं दी. इसके बाद नाराज जस्टिस संगीता चंद्रा ने भर्ती बोर्ड के अपर सचिव भर्ती को 16 नवंबर को याची के सभी रिकॉॅर्ड के साथ कोर्ट में व्यक्ति रूप से उपस्थित होने का आदेश दिया है.

    ये भी पढ़ें: 

    CM योगी आदित्यनाथ बोले- जब तक कश्मीर में हिंदू राजा थे, हिंदू और सिख सुरक्षित थे

    विनय कटियार बोले- कांग्रेस के दबाव में बार-बार टाली जा रही है अयोध्या विवाद की सुनवाई

    राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी ने बीजेपी को दी नसीहत, राम मंदिर पर न करें राजनीति

    अयोध्या विवाद पर बोले इकबाल अंसारी- फैसला जल्द हो, सियासी रोटियां सेंक रहे हैं राजनेता

    अयोध्या विवाद: अब जरूरत मुल्क के इस बड़े मसले के हल होने की है: फरंगी महली

    राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी ने बीजेपी को दी नसीहत, राम मंदिर पर न करें राजनीति

    कट्टरपंथी मुल्लाओं और कांग्रेस की वजह से अयोध्या विवाद कोर्ट में फंसा: वसीम रिजवी

    Tags: Allahabad high court, Allahabad news, Up news in hindi, UP police, Uttarpradesh news, इलाहाबाद

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर