रिटायर्ड दरोगा हत्या मामला: इलाहाबाद HC ने लिया संज्ञान, पूछा- क्यों नहीं हुई गिरफ्तारी

हाईकोर्ट ने मामले में अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल से पूछा है कि सीसीटीवी फुटेज के बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी क्यों नही हुई.

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 4, 2018, 12:00 PM IST
रिटायर्ड दरोगा हत्या मामला: इलाहाबाद HC ने लिया संज्ञान, पूछा- क्यों नहीं हुई गिरफ्तारी
इलाहाबाद हाईकोर्ट
News18 Uttar Pradesh
Updated: September 4, 2018, 12:00 PM IST
इलाहाबाद के शिवकुटी में भूमि विवाद को लेकर रिटायर्ड दरोगा की पीट-पीटकर हत्या मामले का इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए जनहित याचिका कायम की है. हाईकोर्ट ने मामले में अपर महाधिवक्ता मनीष गोयल से पूछा है कि सीसीटीवी फुटेज के बावजूद आरोपियों की गिरफ्तारी क्यों नही हुई. मामले में हाईकोर्ट ने 5 सितम्बर को जानकारी तलब किहे. देवरिया शेल्टर होम मामले की सुनवाई के बाद बुधवार को इस मामले की सुनवाई होगी.

दरअसल, सोमवार की सुबह इलाहाबाद में रिटायर्ड दारोगा की एक हिस्ट्रीशीटर ने अपने बेटों के साथ मिलकर लाठी डंडों से पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी. रिटायर्ड दारोगा की पिटाई का सीसीटीवी फुटेज भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. वीडियो में साफ तौर पर दिख रहा है कि किस तरह से दबंग हिस्ट्रीशीटर रिटायर्ड दारोगा की अपने बेटों के साथ मिलकर पिटाई कर रहा है. दबंग हिस्ट्रीशीटर की करतूत पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई.

रिटायर्ड दारोगा अब्दुल समद शिवकुटी थाना क्षेत्र में रहते हैं और पास में रहने वाले दबंग हिस्ट्री शीटर जुनैद से उनका मकान को लेकर विवाद भी था. जिसको लेकर पहले भी कई बार उनके बीच कहा सुनी हो चुकी थी. लेकिन सोमवार सुबह जब रिटायर्ड दारोगा अब्दुल समद किसी काम से घर से बाहर निकले तभी पहले से घात लगाए बैठे दबंग हिस्ट्रीशीटर ने उनके ऊपर हमला बोल दिया. जिससे लहूलुहान होकर रिटायर्ड दारोगा अब्दुल समद मौके पर ही गिर पड़े. जिन्हें गंभीर हालत में बेली अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. लेकिन देर शाम रिटायर्ड दारोगा अब्दुल समद ने दम तोड़ दिया.

बता दें कि रिटायर्ड दारोगा अब्दुल समद पर हमला करने वाले हिस्ट्रीशीटर जुनैद का पुराना आपराधिक इतिहास है. वहीं एसपी सिटी बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने मामले में कड़ी कार्रवाई की बात कही है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर