'अखिलेश यादव' समेत चार पूर्व छात्र नेताओं के इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में प्रवेश पर रोक

Sarvesh Dubey | News18 Uttar Pradesh
Updated: August 26, 2019, 3:30 PM IST
'अखिलेश यादव' समेत चार पूर्व छात्र नेताओं के इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में प्रवेश पर रोक
इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के चार छात्र नेताओं के प्रवेश पर रोक

इन सभी छात्र नेताओं पर कैम्पस में तोड़फोड़, अराजकता, अनुशासनहीनता सहित कई अन्य आरोप लगे हैं. इन सभी को यूनिवर्सिटी से पहले ही निष्कासित व ब्लैकलिस्ट किया जा चुका है.

  • Share this:
इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी (Allahabad University) के निवर्तमान छात्रसंघ उपाध्यक्ष अखिलेश यादव समेत चार पूर्व छात्र नेताओं के कैंपस में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है. इनमें पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष रोहित मिश्रा, पूर्व छात्रसंघ महामंत्री विक्रान्त सिंह और पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष आदिल हमजा का नाम शामिल है. चीफ प्रॉक्टर प्रो रामसेवक दुबे के आदेश पर यह रोक लगाई गई है.

इन सभी छात्र नेताओं पर कैम्पस में तोड़फोड़, अराजकता, अनुशासनहीनता सहित कई अन्य आरोप लगे हैं. इन सभी को यूनिवर्सिटी से पहले ही निष्कासित व ब्लैकलिस्ट किया जा चुका है. अब इनके प्रवेश पर प्रतिबंध लगाते हुए यूनिवर्सिटी प्रशासन ने पुलिस व जिला प्रशासन के आला अधिकारियों को भी पत्र लिखा है.

दो दिन पहले ही सपा अध्यक्ष से मिला था छात्रों का दल

दो दिन पहले ही इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रों का एक प्रतिनिधि मंडल लखनऊ जाकर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मिला. प्रतिनिधि मंडल में वर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव, समाजवादी छात्र सभा के जिलाध्यक्ष अखिलेश गुप्ता गुड्डू, पूर्व उपाध्यक्ष आदिल हमजा, छात्र नेता अजीत यादव विधायक शामिल रहे. छात्रों ने यूनिवर्सिटी की वर्ततान स्थिति से सपा अध्यक्ष को अवगत कराया था. छात्रों ने बताया कि अखिलेश यादव ने कहा कि छात्रसंघ लोकतंत्र की नर्सरी है, इसे भंग नहीं किया जा सकता. उन्होंने छात्रों के आंदोलन को पूरा समर्थन दिया.

संयुक्त संघर्ष समिति लड़ेगी छात्रसंघ की लड़ाई 


इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रों की एक बैठक में तय किया गया कि अब छात्रसंघ बहाली के लिए आंदोलन संयुक्त संघर्ष समिति के बैनर तले किया जाएगा. छात्रों ने सात सूत्रीय मांग के जरिए अपनी लड़ाई आगे बढ़ाने का संकल्प लिया. सभी निलंबित एवं निष्कासित छात्रों को तत्काल वापस लिया जाए. छात्रावास की बढ़ी फीस वापस ली जाए. इन मांगों के साथ छात्रों का अनिश्चितकालीन धरना भी जारी है. धरने पर पूर्व अध्यक्ष अवनीश यादव, पूर्व उपाध्यक्ष आदिल हमजा, एवीबीपी के सत्येंद्र सिंह, छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव, उपाध्यक्ष अखिलेश यादव छात्र नेता, अखिलेश गुप्ता गुड्डू, अजीत विधायक शामिल रहे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए इलाहाबाद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 3:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...