Home /News /uttar-pradesh /

Narendra Giri Death Case: आनंद गिरी का लिया जाएगा वॉइस सैंपल, कोर्ट ने दी मंजूरी

Narendra Giri Death Case: आनंद गिरी का लिया जाएगा वॉइस सैंपल, कोर्ट ने दी मंजूरी

आनंद गिरी ने मामले में अपना वॉयस सैंपल देने के लिए सहमति दी. (फाइल फोटो)

आनंद गिरी ने मामले में अपना वॉयस सैंपल देने के लिए सहमति दी. (फाइल फोटो)

Prayagraj News: महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में मुख्य आरोपियों में से एक आनंद गिरी के मोबाइल से सीबीआई को एक कॉल रिकॉर्डिंग मिली थी. इसी कॉल रिकॉर्डिंग की पुष्टि के लिए अब आनंद का वॉइस सैंपल लिया जा रहा है जिससे इस बात की पुष्टि हो सके कि कॉल रिकॉर्डिंग में आवाज उसी की थी. इस रिकॉर्डिंग में महंत नरेंद्र गिरी के संबंध में बातचीत हो रही थी.

अधिक पढ़ें ...

प्रयागराज. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में मुख्य आरोपी आनंद गिरी का वॉइस सैंपल लिए जाने की सीजेएम कोर्ट ने मंजूरी दे दी है. सीबीआई की ओर से दाखिल अर्जी पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने जेल मैनुअल के तहत वॉइस सैंपल न्यायिक अभिरक्षा में लेने का आदेश दिया है. सीजेएम कोर्ट ने सीबीआई और आनंद गिरी के वकीलों की बहस सुनकर ये आदेश पारित किया है. दरअसल दोनों पक्षों को सुनने के बाद कोर्ट ने अर्जी पर फैसला सुरक्षित कर लिया था. जिसके बाद शुक्रवार देर शाम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए मुख्य आरोपी आनन्द गिरी का वॉइस सैंपल कराने की सीबीआई को अनुमति दे दी है.
हालांकि सुनवाई के दौरान आनंद गिरी के वकीलों ने वॉइस सैंपल की मांग वाली अर्जी का विरोध किया था. लेकिन पेशी के बाद आनंद गिरी ने वॉइस सैंपल देने पर अपनी सहमति दे दी थी. सीबीआई के वकीलों ने मामले की विवेचना में वॉइस सैंपल को बेहद अहम कड़ी बताया था. सीबीआई को आनंद गिरी के मोबाइल फोन से एक ऑडियो मिला है. जिसमें आनंद गिरी कॉन्फ्रेंस कॉल पर थे और उसमें एक तीसरे व्यक्ति से महंत नरेंद्र गिरी की बातचीत भी हो रही है. इसी ऑडियो की पुष्टि के लिए सीबीआई वॉयस सैंपल करा रही है.
गौरतलब है कि आनन्द गिरी पर महंत नरेंद्र गिरी को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है. इस आरोप में आनन्द गिरी 22 सितंबर से नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं. 11 नवंबर को सेशन कोर्ट ने आनंद गिरी की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी थी.

वहीं सीजेएम कोर्ट में शुक्रवार को महंत नरेंद्र गिरी की मौत से जुड़े एक अन्य मामले में भी सुनवाई हुई. मुख्य आरोपी आनन्द गिरी और अन्य दो आरोपियों आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी की न्यायिक हिरासत सीजेएम कोर्ट ने 20 नवंबर तक बढ़ा दी है. सीजेएम कोर्ट में वीडियो कांफ्रेंसिंग से आरोपियों की पेशी हुई. आनंद गिरी के वकीलों ने न्यायिक हिरासत बढ़ाए जाने का विरोध किया और सीबीआई पर अपने मुवक्किल के उत्पीड़न का भी आरोप लगाया. इसके बावजूद सीबीआई ने विवेचना आगे बढ़ाने के लिए न्यायिक हिरासत की मांग की जिसे कोर्ट ने स्वीकार करते हुए 8 दिन के लिए न्यायिक हिरासत बढ़ाने का आदेश पारित किया है.

कोर्ट ने 20 नवंबर को अगली सुनवाई पर सीबीआई से विवेचना की प्रगति रिपोर्ट भी मांगी है.गौरतलब है कि तीनों आरोपियों पर महंत नरेंद्र गिरी को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है. तीनों आरोपी आनन्द गिरी, आद्या प्रसाद तिवारी और संदीप तिवारी नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं. इस मामले में अगली सुनवाई सीजेएम कोर्ट में 20 नवंबर को होगी.

Tags: Allahabad news, Anand Giri, Mahant Narendra Giri Death Case, Uttar pradesh news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर