Home /News /uttar-pradesh /

बाहुबली सांसद अतीक अहमद की बेगम ने लिखा CM योगी से लगाई गुहार, जानें क्या लिखा पत्र में

बाहुबली सांसद अतीक अहमद की बेगम ने लिखा CM योगी से लगाई गुहार, जानें क्या लिखा पत्र में

सीएम योगी को लिखा पत्र दिखातीं शाइस्ता परवीन.

सीएम योगी को लिखा पत्र दिखातीं शाइस्ता परवीन.

Shaista Parveen's Letter to CM Yogi: शाइस्ता परवीन ने सीएम योगी को पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्होंने पति अतीक अहमद और बेटे अली अतीक के खिलाफ दर्ज मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है. शाइस्ता परवीन के मुताबिक इमरान जानू उनके पति का नाम बदनाम कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

इलाहाबाद. जब से योगी सरकार आई है प्रदेश में कई तरह के बदलाव देखने को मिले हैं. अपराधियों की बात की जाए तो कहा जाता है कि योगी सरकार में बड़े-बड़े माफियाओं और अपराधियों ने घुटने टेक दिए हैं. अपराधी या तो जेल की सलाखों में बंद हैं या फिर प्रदेश छोड़कर बाहर चले गए हैं. जो जेलों में बंद हैं योगी सरकार के डर से जेलों से भी बाहर आने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं.

ताजा मामला माफिया घोषित हो चुके बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद से जुड़ा है. अतीक अहमद इन दिनों गुजरात के अहमदाबाद के साबरमती जेल में बंद है. 31 दिसंबर को अतीक अहमद, उनके छोटे बेटे अली अतीक और 15 अन्य के खिलाफ करेली थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है. इसके बाद अतीक अहमद का परिवार सीएम योगी से इंसाफ की गुहार लगा रहा है. बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन ने सीएम योगी को पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्होंने पति अतीक अहमद और बेटे अली अतीक के खिलाफ दर्ज मामले में निष्पक्ष जांच की मांग की है.

रिश्तेदार पर आरोप

शाइस्ता परवीन ने आरोप लगाया है कि उनके रिश्तेदार इमरान जानू पहले उनके पति का ही कारोबार को देखते थे. लेकिन उनके जेल जाने के बाद उन्होंने कारोबार अलग कर लिया. शाइस्ता परवीन के मुताबिक इमरान जानू उनके पति का नाम बदनाम कर रहे हैं. इमरान जानू किसानों की जमीनें और मकान सस्ते दामों पर हड़प लिया करते हैं. जिससे उनके पति की छवि खराब हो रही है.

शाइस्ता परवीन ने कहा है कि इमरान जानू को मैंने कई बार मना किया और समझाने की कोशिश की. इमरान जानू का कारोबार बाराबंकी, बहराइच और लखनऊ जिले में चल रहा है. लेकिन कारोबार का हिसाब मांगने पर वे हिसाब नहीं देते. इसी रंजिश के कारण इमरान जानू के भाई जीशान ने उनके छोटे बेटे अली अतीक को फर्जी मुकदमे में फंसाया है.

शाइस्ता परवीन ने सीएम योगी से गुहार लगाई है कि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कराई जाए. उनके अनुसार ऐनुद्दीनपुर में जमीन को लेकर हुए बवाल के वक्त उनका बेटा अली अतीक मौके पर मौजूद नहीं था. शाइस्ता परवीन ने इमरान जानू की भूमाफिया के रूप में संपत्ति की जांच की भी सीएम योगी से मांग की है.

फरार हैं अतीक के बेटे

गौरतलब है कि बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के रिश्तेदार इमरान जानू के भाई जीशान ने 31 दिसंबर 2021 को करेली थाने में अतीक अहमद, छोटे बेटे अली अतीक और 15 अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. इन पर पांच करोड़ की रंगदारी मांगने, पांच बीघे जमीन की बाउंड्री वॉल जेसीबी से गिराने और कब्जाने के साथ ही धमकाने का आरोप है. पुलिस ने मुकदमा दर्ज करने के बाद मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इसके साथ ही एक गाड़ी भी सीज कर दी है. लेकिन अतीक अहमद का छोटा बेटा अली अतीक फरार है. जिस पर पुलिस इनाम घोषित करने की तैयारी कर रही है. जबकि अतीक अहमद का बड़ा बेटा मोहम्मद उमर पहले से ही फरार है और सीबीआई ने उस पर दो लाख का इनाम घोषित किया है.

Tags: Atiq Ahmed wife Shaista, Bahubali Ateeq Ahmed, CM Yogi Adityanath

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर