Corona ने रामलीला पर लगाया ग्रहण तो 'रावण' बने प्रॉपर्टी डीलर, 'जामवंत' काट रहे बाल

रामलीला में रावण का किरदार निभाने वाले नीरज त्रिपाठी प्रापर्टी डीलिंग कर रहे. (Photo: News 18)
रामलीला में रावण का किरदार निभाने वाले नीरज त्रिपाठी प्रापर्टी डीलिंग कर रहे. (Photo: News 18)

प्रयागराज (Prayagraj) में रामलीला से जुड़े कलाकारों की मांग है कि सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना की गाइडलाइन के साथ रामलीलाओं के मंचन की सरकार अनुमति प्रदान कर दे, जिससे सालों से रामलीलाओं के मंचन की चली आ रही परम्परा को जहां टूटने से बचाया जा सके.

  • Share this:
प्रयागराज. दशहरा (Dussehra) त्योहार नजदीक आते ही रामलीला (Ramlila) से जुड़े कलाकार रामलीलाओं के मंचन की तैयारियों में जुट जाया करते हैं. दशहरे से लगभग 2 माह पहले रामलीला के मंचन की तैयारियां भी शुरू हो जाती हैं. रामलीला के मंचन से जुड़े कलाकारों (Artists) का चयन होने के बाद रिहर्सल भी शुरू हो जाता है. लेकिन इस बार कोरोना की वैश्विक महामारी ने रामलीलाओं के आयोजन पर पूरी तरह से ब्रेक लगा दिया है.

रामलीला के मंचन की नहीं मिली है इजाजत
प्रयागराज की सैकड़ों साल पुरानी ऐतिहासिक पत्थर चट्टी की रामलीला में सालों से अभिनय करने वाले कलाकार भी रामलीलाओं के मंचन की इजाजत न मिलने से खासे मायूस हैं. कोरोना के चलते रामलीला के मंचन में अलग-अलग किरदार निभाने वाले कलाकारों पर भी खासा असर पड़ा है. कई कलाकारों ने तो अपनी रोजी रोटी चलाने के लिए दूसरे कामों को अपना लिया है. रामलीला में अब तक रावण का किरदार निभाने वाले कलाकार नीरज त्रिपाठी प्रापर्टी डीलिंग का काम कर रहे हैं. वहीं पिछले कई सालों से जामवंत का रोल निभाने वाले कलाकार अजय सिंह हेयर सैलून में लोगों के बाल काटकर अपनी आजीविका चला रहे है.

रोजगार की समस्या
अजय सिंह रामलीला में पिछले कई वर्षों से जामवंत का किरदार निभाते चले आ रहे थे और लोग इनके सजीव अभिनय को देखकर उसमें ही रम जाते थे. दशहरे पर रामलीला के वक्त इनके पास बिल्कुल भी समय नहीं रहता था. दिन रात रामलीला के मंचन की रिहर्सल में बीत जाता था लेकिन इस कोरोना ने इनका जीवन ही बदलकर रख दिया है. अब कोविड के चलते कलाकार रामलीला में अभिनय नहीं कर पा रहे हैं और इनके सामने रोजी रोटी का भी संकट खड़ा हो गया है.



ramlila prayagraj1
रामलीला में जामवंत का रोल निभाने वाले अजय सिंह हेयर सैलून में बाल काटकर अपनी आजीविका चला रहे हैं. (Photo: News 18)




योगी सरकार के मांग
रामलीला से जुड़े कलाकारों को रामलीला कमेटी उनके रोल के मुताबिक पारिश्रमिक भी देती है, जो कि इन कलाकारों के आय का प्रमुख स्रोत भी हुआ करता था. रामलीला से जुड़े कलाकारों की योगी सरकार से मांग है कि कोरोना काल में सरकार उनके बारे में जरूर विचार करे.

वहीं कई सालों से रामलीला में रावण का रोल कर रहे नीरज त्रिपाठी की भी जिन्दगी कोरोना ने पूरी तरह से बदल कर रख दी है. पिछले पंद्रह वर्षों से नीरज रामलीला में अभिनय कर रहे हैं और वो रावण का किरदार बखूबी निभाते आ रहे हैं. लेकिन अब वो भी परिवार का पेट पालने के लिए प्रापर्टी के कारोबार में जुट गए हैं.

सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अनुमति दें
रामलीला से जुड़े कलाकारों की मांग है कि सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना की गाइडलाइन के साथ रामलीलाओं के मंचन की सरकार अनुमति प्रदान कर दे, जिससे सालों से रामलीलाओं के मंचन की चली आ रही परम्परा को जहां टूटने से बचाया जा सके. वहीं राम लीला से जुड़े कलाकारों को भी रोजी-रोटी का जरिया मिल सके.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज